स्वतंत्रता दिवस: सीएम शिवराज ने किए कई बड़े ऐलान, बोले-27% आरक्षण दिलाने हम प्रतिबद्ध

सीएम शिवराज सिंह सामुदायिक वन प्रबंधन के अधिकार जनजातीय भाई-बहनों को दिए जाएंगे। उनके बच्चों के स्वास्थ्य और शिक्षा का भी विशेष ध्यान रखा जाएगा।

सीएम शिवराज

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  आज 75वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने लाल परेड मैदान पर ध्वजारोहण किया और परेड की सलामी ली। इस मौके पर सीएम शिवराज ने कहा कि अन्य पिछड़े वर्ग के भाई-बहनों को 27% आरक्षण (27 percent OBC reservation) दिलाने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। इसके लिए न्यायालय में व्यवस्थित रूप से पैरवी की जाएगी।बेटी के जन्म के बाद से ही उसके खाते में दो हजार रुपए जमा होंगे। महिला के नाम प्रॉपर्टी खरीदी गई है तो रजिस्ट्रेशन पर पंजीयन शुल्क 3% की जगह सिर्फ 1% ही लगेगी।

यह भी पढ़े.. पूर्व विधायक की बीजेपी में घर वापसी, चुनावों से पहले मिल सकता है बड़ा तोहफा

सीएम शिवराज सिंह सामुदायिक वन प्रबंधन के अधिकार जनजातीय भाई-बहनों को दिए जाएंगे। उनके बच्चों के स्वास्थ्य और शिक्षा का भी विशेष ध्यान रखा जाएगा।हम बाहर से तो निवेश ला ही रहे हैं, साथ ही मध्यप्रदेश के बच्चों को उद्यमी बनाने के लिए भी प्रयासरत हैं। हमारे बच्चे रोजगार (Employement) लेने वाले नहीं, रोज़गार देने वाले भी बनें। महिलाओं के सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक सशक्तिकरण के लिए मध्यप्रदेश की सरकार निरंतर प्रयास कर रही है।

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश में संस्कृति की विविधता है। हमने एकात्मकता का बोध कराने के लिए ओंकारेश्वर में अद्वैत वेदांत संस्थान स्थापित करने का निर्णय लिया है। देवी अहिल्याबाई और बाजीराव पेशवा जी का स्मारक बनवाया जाएगा।हम परंपरागत ऊर्जा के साथ ही सौर और पवन ऊर्जा पर भी ध्यान दे रहे हैं। ओंकारेश्वर में फ्लोटिंग सोलर पॉवर प्लांट लगने जा रहा है। बिजली व्यर्थ न जाये इसका भी संकल्प लें।

यह भी पढ़े.. MP Open Board Exams: सोमवार से 10वीं-12वीं की परीक्षाएं, 10 हजार छात्र होंगे शामिल!

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए ग्वालियर में उनका स्मारक बनाया जाएगा। मध्यप्रदेश को बनाना केवल सरकार का काम नहीं है, इसे बनाने के लिए प्रत्येक नागरिक को अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा। हमने इसके लिए जनभागीदारी का मॉडल बनाया है। जनता के कल्याण की योजनाएँ जनता के साथ मिलकर बनाएंगे। एक लाख लोगों को रोजगार दिया जाएगा। बिजनेस के लिए कर्ज लेने पर सरकार बैंक गारंटी देगी। प्रदेश में 2 हजार KM नई सड़क बनाई जाएगी। 1.22 करोड़ लोगों को घर पर पानी उपलब्ध कराया जाएगा।

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि किसानों (Farmers) के बैंक खातों (Bank Account) में विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत करोड़ों रुपये की राशि हम ट्रांसफर (Transfer) कर चुके हैं। उनका कल्याण हमारे लिए सर्वोपरि है। महिला सशक्तिकरण भी हमारी प्राथमिकता है। लाडली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत लाखो बेटियाँ लाभान्वित हुई हैं।सभी नागरिक संकल्प लें कि #COVID19 एप्रोप्रियेट बिहेवियर का पालन करेंगे और सभी प्रोटोकॉल फॉलो करेंगे। सभी प्रतिवर्ष कम से कम एक पेड़ अवश्य लगाएंगे।

यह भी पढ़े.. खुशखबरी: इन कर्मचारियों को मिला बोनस का तोहफा, सैलरी में इतना मिलेगा फायदा

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि बिना इलाज के हम किसी गरीब को नहीं रहने देंगे। #AyushmanBharat के अंतर्गत मध्यप्रदेश में 2.5 करोड़ से अधिक गरीब नागरिकों का हेल्थ कार्ड बनाया गया है, जिससे उन्हें चिन्हित अस्पतालों में 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज मिलता है।मुझे कहते हुए प्रसन्नता है कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में हम सभी गरीबों को रहने के लिए पक्का मकान उपलब्ध करा रहे हैं। गरीब बच्चों की पढ़ाई की पूरी व्यवस्था कर रहे हैं, उनकी प्रतिभा को कुंठित नहीं होने दिया जाएगा।

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि #AatmaNirbharBharat अभियान के अंतर्गत एग्री-इंफ्रा फंड के इस्तेमाल में मप्र देश में पहले स्थान पर है। शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में हम नए आयाम गढ़ रहे हैं। अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ करने और रोज़गार के नए अवसर सृजित करने के लिए हम कार्यरत हैं। हमें जलवायु परिवर्तन के खतरों के मुकाबले करना पड़ेगा। मैं रोज एक पेड़ लगाता हूँ। मैं आपसे अपील करता हूँ कि रोज नहीं तो एक साल में कम से कम एक पेड़ अवश्य लगाना। हमें आने वाली पीढ़ियों के लिए यह धरती हरी-भरी छोड़कर जाना है।

यह भी पढ़े.. हाईकोर्ट की अहम टिप्पणी- ‘मनोरंजन के लिए शारीरिक संबंध नहीं बनाती भारतीय लड़कियां’

एक नजर में पढ़े सीएम शिवराज के बड़े ऐलान

  • बेटी के जन्म के बाद से ही उसके खाते में दो हजार रुपए जमा होंगे।
  • महिला के नाम प्रॉपर्टी खरीदी गई है तो रजिस्ट्रेशन पर पंजीयन शुल्क 3% की जगह सिर्फ 1% ही लगेगी।
  • सामुदायिक वन प्रबंधन के अधिकार जनजातीय भाई-बहनों को दिए जाएंगे। उनके बच्चों के स्वास्थ्य और शिक्षा का भी विशेष ध्यान रखा जाएगा।
  • एक लाख लोगों को रोजगार दिया जाएगा। बिजनेस के लिए कर्ज लेने पर सरकार बैंक गारंटी देगी।
  • प्रदेश में 2 हजार KM नई सड़क बनाई जाएगी। 1.22 करोड़ लोगों को घर पर पानी उपलब्ध कराया जाएगा।
  • प्रदेश में 2 हजार मेगावाट बिजली बनाएंगे। सभी सरकारी भवन सौर ऊर्जा से रोशन होंगे।
  • देवी अहिल्याबाई और बाजीराव पेशवा जी का स्मारक बनवाया जाएगा।
  • पूर्व प्रधानमंत्री श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए ग्वालियर में उनका स्मारक बनाया जाएगा।