MP College Admission : UGC के महत्वपूर्ण दिशा निर्देश, UG प्रवेश के लिए एडवाइजरी पर बड़ी अपडेट, छात्रों को मिलेगा लाभ

मध्य प्रदेश उच्च शिक्षा विभाग द्वारा सोमवार को निर्णय लिया जा सकता है।

MP College

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एक तरफ जहां सीबीएसई के छात्र रिजल्ट (CBSE 10th-12th Result) के इंतजार में बैठे हुए हैं। दूसरी तरफ कई राज्य सरकारों द्वारा यूजी प्रवेश (UG Admission) की प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है। मध्यप्रदेश की बात करें तो MP Colleges में UG प्रवेश को लेकर तीसरे चरण काउंसलिंग की प्रक्रिया (Counseling process) भी समाप्त होने वाली है। जबकि यूजीसी (UGC) ने उच्च शिक्षा विभाग (Higher education department) सहित सभी प्रदेश के कॉलेजों और विश्वविद्यालय को एडवाइजरी जारी कर दी है। दरअसल इस एडवाइजरी (Advisory) में यूजीसी ने सभी विश्वविद्यालय से एक अतिरिक्त काउंसलिंग राउंड से लाने के निर्देश दिए हैं।

इस मामले में मध्य प्रदेश उच्च शिक्षा विभाग द्वारा सोमवार को निर्णय लिया जा सकता है। बता दे कि सीबीएसई द्वारा अब तक 12वीं के परीक्षा परिणाम की घोषणा नहीं की गई है। 12वीं परीक्षा Term-2 के परिणाम घोषित नहीं होने की वजह से कई छात्र प्रवेश प्रक्रिया का हिस्सा नहीं बन पा रहे हैं। इसी बीच CBSE ने UGC से अपील की थी। जिसके बाद यूजीसी ने सभी विश्वविद्यालय को निर्देश जारी कर दिए हैं।

Read More : बाबर आजम ने रचा इतिहास, विराट कोहली को पीछे छोड़ बनाया अपने करियर का सबसे बड़ा रिकार्ड

इधर उच्च शिक्षा विभाग द्वारा मध्य प्रदेश के यूजी और पीजी के छात्रों के लिए एक अतिरिक्त काउंसलिंग राउंड 19 जुलाई को चलाया जाएगा। बता दें कि अभी भी यूजी और पीजी कॉलेजों में लगभग 400000 सीटें खाली है। जिसके बाद उच्च शिक्षा अधिकारियों की माने तो CBSE Term-2 के रिजल्ट नहीं आने से बहुत से छात्रों द्वारा प्रवेश प्रक्रिया में हिस्सा नहीं लिया गया है। ऐसे में माना जा रहा है कि यूजीसी के दिशा निर्देश पर जल्दी मध्यप्रदेश शिक्षा विभाग द्वारा एक अतिरिक्त काउंसलिंग राउंड चलाया जाएगा। इसके लिए सोमवार को घोषणा की जा सकती है।

ज्ञात हो कि मध्यप्रदेश में यूजी और पीजी को मिलाकर अब तक कुल 350000 के करीब प्रवेश हुए हैं जबकि 400000 से अधिक सीटें खाली है। हालांकि यूजीसी के दिशा निर्देश के बाद एक बार फिर से मध्य प्रदेश के कॉलेजों में सीबीएसई 12वीं के रिजल्ट आने के बाद सीटें भरने की संभावना बढ़ गई है।