मध्यप्रदेश में कोरोना का विस्फोट, Indore-Bhopal बना हॉटस्पॉट, केंद्र ने दिए निर्देश

बता दें कि इससे पहले इंदौर में 1 जून 2021 को 338 मरीजों की पुष्टि हुई थी।

indore corona

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में एक बार फिर से कोरोना (MP Corona) की स्थिति बेकाबू हो गई है। इंदौर (Indore) में लगातार बढ़ते मामले ने आर्थिक राजधानी को एक बार फिर से हॉटस्पॉट (hotspot) के दायरे में लाकर खड़ा कर दिया है 1 दिन में इंदौर में 319 मरीजों की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही साथ एक कैबिनेट मंत्री और एसीएस (ACS) भी अपने परिवार सहित संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा राजधानी भोपाल में भी 92 में मरीजों की पुष्टि हुई है। जिसके बाद प्रदेश में एक बार फिर से प्रतिबंध सहित खतरे की घंटी बजने लगी है।

मंत्री गोविंद सिंह राजपूत (Govind singh rajput) की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इसके अलावा ग्वालियर में 64, जबलपुर में 21, उज्जैन में 9, रतलाम में दो और खंडवा में 7 मरीजों की पुष्टि हुई है। वही शिवपुरी में 12, दतिया में चार सहित श्योपुर, मुरैना और भीड़ में एक-एक मरीजों की पुष्टि हुई है। इंदौर में जहां एक्टिव केसों (Active cases) की संख्या बढ़कर 820 पहुंच गई है। वहीं प्रदेश में कुल एक्टिव केसों की संख्या 1200 के पार पहुंच गई है। वहीं प्रदेश में अब तक Omicron के 9 मरीज बताए गए हैं। बता दें कि इससे पहले इंदौर में 1 जून 2021 को 338 मरीजों की पुष्टि हुई थी।

Gwalior Cases

इधर ग्वालियर में भी बड़ा Corona विस्फोट हुआ है। दरअसल पुलिस अधीक्षक कार्यालय में 3 दिन पहले संक्रमित हुई। एक महिला के बाद कार्यालय के 50 कर्मचारियों के सैंपल जांच के लिए दिए गए थे। जिसमें 7 कर्मचारी की रिपोर्ट Corona पॉजिटिव आई है। इसके अलावा डिस्पेंसरी में प्रभारी डॉ सहित उनके तीन कर्मचारी भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

Read More : MP Board : सिलेबस और प्रश्न पत्र पर आई बड़ी अपडेट, 10वीं-12वीं के छात्रों के लिए जल्द जारी होंगे एडमिट कार्ड

Bhopal

राजधानी में देर रात हुई जिला Crisis मैनेजमेंट की बैठक में प्रभारी मंत्री द्वारा Mask अभियान को फिर से शुरू करने सहित मास्क ना पहनने वाले से ₹200 जुर्माना वसूलने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा प्रतिबंध को लागू करने सहित सख्ती से Corona गाइडलाइन का पालन करवाने के भी निर्देश दिए गए हैं। हालांकि अभी Weekend कर्फ्यू सहित नाइट कर्फ्यू की अवधि को बढ़ाने पर विचार नहीं किया गया है। इसके साथ ही मेले सहित अन्य गतिविधियों पर कलेक्टर को निरीक्षण रखने के निर्देश दिए गए हैं।

Indore 

जो कि इंदौर में हुई बैठक में शादियों में 200 तो शव यात्रा में 50 लोगों के शामिल होने के निर्देश जारी किए गए हैं। साथ ही कोचिंग संस्थान 50 विशेष क्षमता के साथ खोलने और धरना प्रदर्शन पर पूरी तरह से रोक लगाने का प्रस्ताव तैयार किया गया है।

Central Guideline

वहीं प्रदेश में Corona के बढ़ते मामले को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा मध्य प्रदेश सरकार सहित अन्य केंद्र शासित सरकारों को कोर्ट के सेंटर अस्पताल में विस्तार सहित स्वास्थ्य व्यवस्था की तैयारियों की समीक्षा करने के निर्देश दिए गए हैं। एनएचएम के अपर सचिव ने इस मामले में मंगलवार को पत्र जारी किया। जिसमें उन्होंने कहा है कि कोरोना के बढ़ते मामले और हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को बेहतर बनाने की जरूरत है।

इसके लिए अस्थाई अस्पतालों का निर्माण का कार्य शुरू करवाया जाए साथ ही राज्य सरकार सरकारी और निजी अस्पताल में बेड और ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था को सुरक्षित रखें। इतना ही नहीं कम गंभीर मरीजों के लिए होटल और अन्य जगह में कोरोना केयर सेंटर तैयार करने के निर्देश भी दिए गए हैं। कोरोना जांच, इलाज की दवा सहित अन्य जरूरत की दवा उपलब्ध करना भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। इससे पहले सोमवार को प्रदेश में 308 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई थी। जिसके बाद एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 1029 पहुंच गई थी।