भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में तीसरी लहर (third wave) की आशंका के बीच एक बार फिर से नए मामले में बढ़ोतरी देखी जा रही है। इसके साथ ही शिवराज सरकार (shivraj government) ने MP Corona के बढ़ते मामले पर चिंता जताई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोगों से सचेत रहने की अपील की है। हर समीक्षा बैठक के दौरान CM Shivraj प्रदेश की जनता को और सोशल डिस्टेंसिंग (social distancing)  का पालन करने के निर्देश देते नजर आ रहें हैं।

दरअसल सीएम शिवराज (CM Shivraj) की चिंता का कारण स्वाभाविक है। बीते 7 दिनों में मध्यप्रदेश में कोरोना के 265 नए मामले सामने आए हैं। 27 जून से 3 जुलाई के बीच भोपाल, इंदौर, जबलपुर, राजगढ़ और बेतूल में सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। रतलाम और नीमच में भी कोरोना केसों के बढ़ने का सिलसिला जारी है। दरअसल बैतूल में बढ़ती संक्रमण सरकार की चिंता बढ़ाई है। महाराष्ट्र की सीमा से लगे होने के बाद एक बार फिर से यहां संक्रमण में बढ़ोतरी देखी जा रही है। जिसके बाद सरकार ने अलर्ट जारी कर दिए हैं। सरकार ने टेस्टिंग के साथ ही साथ बॉर्डर की निगरानी को बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा राजधानी भोपाल, इंदौर, जबलपुर और राजगढ़ में मामले बढ़ रहे हैं।

Read More: e-PAN Downlaod: अब चंद मिनटों में डाउनलोड करें e-PAN Card, जाने प्रोसेस

1 सप्ताह के अंदर भोपाल में 61, इंदौर में 53, जबलपुर 23, बैतूल 25 और राजगढ़ में 16 नए संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा मुरैना, विदिशा, निवाड़ी, खरगोन, हरदा, बालाघाट, बड़वानी, झाबुआ में भी संक्रमित मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है। हालांकि राहत की बात यह है कि बीते 7 दिनों में प्रदेश के 21 ऐसे जिले हैं। जिनमें एक भी मरीज सामने नहीं आए हैं। जिनमें उज्जैन, सागर, शिवपुरी, अनूपपुर, अशोकनगर, अलीराजपुर, आगर मालवा, शाजापुर, मंडला, खंडवा, शिवनी, टीकमगढ़, बुरहानपुर, छतरपुर और पन्ना शामिल है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी को निर्देश दिए हैं कि संक्रमण से बचने के उपाय खोजे जाए और बढ़ रही लापरवाही पर नकेल कसा जाए। मॉनिटरिंग टीमों को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कराने के निर्देश दिए गए हैं। इधर टीकाकरण की बात करें तो प्रदेश में सभी शनिवार को 2 लाख 72 हजार लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया है। दरअसल सभी लोग को Covaxin का दूसरा डोज लगाया गया है। इसके लिए प्रदेश भर में 2000 से अधिक केंद्र बनाए गए थे। मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा टीकाकरण इंदौर में हुआ है। इंदौर में करीबन 45200 से अधिक लोगों को टीकाकरण किया गया है। इसके अलावा राजधानी भोपाल में 13000 लोगों को टीका लगाया गया। हालाकि भोपाल में रविवार को टीकाकरण नहीं होगा। सोमवार को करीब 22 केंद्रों पर टीकाकरण करने की तैयारी की गई है।