मप्र पंचायत चुनाव: हटाए जाएंगे ये अधिकारी, फाइनल वोटर लिस्ट आज, 14 को आरक्षण

वही आचार संहिता लगते ही अब निर्वाचन क्षेत्रों में 3 साल से पदस्थ अधिकारी हटाए जाएंगे।इसके लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने गृह और राजस्व विभाग को कार्रवाई कर प्रतिवेदन देने के निर्देश दिए हैं।

पंचायत चुनावों

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्यप्रदेश में पंचायत चुनाव (MP PanchayaT Election 2021) की तारीखों का ऐलान होते ही हलचल तेज हो गई है। आज 6 दिसंबर 2021 को फाइनल वोटर लिस्ट जारी की जाएगी और फिर 14 दिसंबर को जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए आरक्षण होगा। वही आचार संहिता लगते ही अब निर्वाचन क्षेत्रों में 3 साल से पदस्थ अधिकारी हटाए जाएंगे।इसके लिए राज्य निर्वाचन आयोग (state election commission) ने गृह और राजस्व विभाग को कार्रवाई कर प्रतिवेदन देने के निर्देश दिए हैं।इसके तहत कई पुलिस अधिकारियों का तो ट्रांसफर किया जा चुका है। हाल ही में गृह विभाग द्वारा ट्रांसफर (Transfer) की लिस्ट भी जारी की गई थी।

यह भी पढ़े.. MP में एक्टिव केस 130 पार, इन जिलों में सख्ती बढ़ाई, CM बोले- आने वाले संकट की आहट

राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा पंचायत चुनाव की तारीखों का ऐलान होते ही प्रदेश मे आदर्श आचरण संहिता (Code Of Conduct) लागू हो गई है, ऐसे में चुनाव प्रभावित ना हो, इसके लिए निर्वाचन क्षेत्रों में 3 साल से एक जगह जमे अधिकारी और कर्मचारियों का तबादला किया जाएगा।इसमें अनुविभागीय अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, राजस्व निरीक्षक, उप पुलिस अधीक्षक, अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस), थाना निरीक्षक, उप निरीक्षक, सहायक निरीक्षक, पंचायत सचिव आदि शामिल है।वही ग्राम पंचायत के ऐसे सचिव जो ऐसी ग्राम पंचायत में पदस्थ है जिसमें उनका गृह ग्राम सम्मलित है, अथवा ऐसे ग्राम पंचायत सचिव एक ही ग्राम पंचायत में 3 वर्ष से अधिक समय से पदस्थ है उन्हें किसी अन्य ग्राम पंचायत में स्थानांतरित किया जाएगा।

यह भी पढ़े.. सर्दी का सुपरफूड मटर, पर जरूरत से ज्यादा खाने पर हो सकते हैं ये नुकसान।

राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित कार्यक्रम के अनुसार, इंदौर जिले में पहले चरण में चुनाव होंगे। इसके लिये 13 दिसम्बर को निर्वाचन की अधिसूचना जारी की जाएगी। इसी दिन से नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने का सिलसिला शुरू हो जायेगा। जिले में 6 जनवरी को मतदान होगा।इससे पहले निर्वाचन कार्य से जुड़े अधिकारी-कर्मचारियों को विभिन्न चरणों में प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके लिए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी मनीष सिंह ने प्रशिक्षण कार्यक्रम की तिथियां निर्धारित कर दी है।इसी तरह अन्य जिलों में भी प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

14 दिसंबर को आरक्षण

पंचायत राज संचालनालय ने प्रदेश की 52 जिला पंचायत के अध्यक्ष पद के लिए आरक्षण 14 दिसंबर 2021 को कराने को लेकर कलेक्टरों को निर्देश जारी कर दिए हैं।पंचायत राज संचालनालय मप्र भोपाल द्वारा जारी सूचना के अनुसार मप्र पंचायत राज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम 1993 की धारा 32 एवं मप्र पंचायत (उप सरपंच, अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष) निर्वाचन नियम 1995 के अनुसार जिला पंचायत के अध्यक्ष पदों के आरक्षण की कार्यवाही के लिए 14 दिसम्बर 2021 की तिथि नियत की गई है। इस संबंध में पंचायत राज संचालनालय ने कलेक्टरों को निर्देश जारी कर कहा है कि अनुसूचित जाति, जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग और सभी वर्गों में महिलाओं के लिए आरक्षण लॉटरी निकाल कर होगा। आरक्षण की संपूर्ण कार्यवाही जल एवं भूमि प्रबंध संस्थान (वाल्मी) कलियासोत डेम के पास भोपाल में शुरू होगी। आरक्षण की कार्यवाही की सूचना जिला और पंचायत कार्यालयों में चस्पा करें।

अधिकारियों को जिम्मेदारी

निवाड़ी जिले की निर्धारित सीमाओं सहित जिले में विभिन्न राजनैतिक दलों, अभ्यर्थियों,व्यक्तियों आदि को चुनाव प्रचार-प्रसार के उपयोग के लिए वाहनों, आमसभा, जुलूस और हेलीपेड व अन्य कार्यों की अनुमति प्रदान करने के लिये अधिकारियों को सक्षम अधिकारी घोषित किये गये हैं।तदनुसार अपर जिला दण्डाधिकारी निवाड़ी संपूर्ण जिले के लिये तथा अनुविभागीय दण्डाधिकारी अपने-अपने अनुभाग- क्षेत्रान्तर्गत सक्षम अधिकारी रहेंगे। रतलाम कलेक्टर (Ratlam Collector) कुमार पुरुषोत्तम ने सभी SDM अपने अनुविभाग मुख्यालय के निर्वाचन क्षेत्र के लिए तथा विकासखंड पिपलोदा तथा बाजना निर्वाचन क्षेत्रों के लिए संबंधित तहसीलदार एवं रिटर्निंग ऑफिसर पंचायत को अधिकृत किया गया है। संबंधित SDM, तहसीलदार एवं रिटर्निंग ऑफिसर परीक्षण उपरांत राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार आवश्यक अनुमति जारी करेंगे। इसके लिए सिंगल विंडो सिस्टम स्थापित किया जाकर अनुमति जारी की जाएगी।

यह भी पढ़े.. MP पंचायत चुनाव: उम्मीदवारों को देनी होगी इतनी जमानत राशि, सभा के लिए अनुमति जरूरी, पढ़े नियम

बता दे कि मध्यप्रदेश में पंचायत चुनाव (Madhya Pradesh Election 2021-22) 3 चरणों में होंगे। पहले चरण का मतदान 9 जिलों में 6 जनवरी 2022, दूसरे चरण का मतदान 7 जिलों में 28 जनवरी और तीसरे चरण का मतदान 36 जिलों में 16 फरवरी को होगा।पंच एवं सरपंच के लिए निर्वाचन मतपत्रों से होगा, जबकि जनपद और जिला पंचायत सदस्य के लिए वोटिंग EVM से होगी। मतदान केन्द्र पर पंच और सरपंच पद के लिये मतगणना मतदान समाप्ति के तुरंत बाद की जाएगी। MP में कुल 3 करोड़ 92 लाख 51 हजार 811 मतदाता है। इसमें पुरुष मतदाता 20230095,महिला मतदाता 19020672 और अन्य मतदाता 1044 हैं।इस चुनाव में 859 जिला सदस्य, 6727 जनपद सदस्य, 22581 सरपंच और 362754 लाख पंच चुने जाएंगे