MP में एक्टिव केस 130 पार, इन जिलों में सख्ती बढ़ाई, CM बोले- आने वाले संकट की आहट

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जितने भी लक्षण दिखाई दे रहे हैं वो आने वाले संकट की आहट के प्रतीक हैं।

सीएम शिवराज

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। देश में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रान के बढ़ते केसों के बाद मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है।मध्य प्रदेश से सटे राज्यों गुजरात, महाराष्ट्र और राजस्थान की सीमा से लगे जिलों में निगरानी और जांच बढ़ाई गई है।मप्र सरकार (MP Government) ने इन राज्यों से होकर आने वाली ट्रेनों के यात्रियों की कोरोना जांच अनिवार्य करने को कहा है।इसके अलावा बालाघाट में विदेश से आने वाले लोगों को RTPCR टेस्ट अनिवार्य कर दिया गया है और 7 दिन क्वारंटाइन रहने को कहा गया है। फिलहाल मंदसौर में विदेश से आने वाले 9 लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया है।

यह भी पढ़े.. MP पंचायत चुनाव: उम्मीदवारों को देनी होगी इतनी जमानत राशि, सभा के लिए अनुमति जरूरी, पढ़े नियम

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, 5 दिसंबर को 2021 को मध्य प्रदेश में (MP Corona Active Case) 9  नए कोरोना पॉजिटिव मिले है। इसमें भोपाल में 5 और इंदौर, जबलपुर, अनूपपुर और शहडोल में एक एक केस मिला है। राहत की बात ये है कि 18 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे।इसके बाद एक्टिव केसों की संख्या 133 हो गई है। संक्रमण दर 0.01 के आसपास बनी हुई है और प्रदेश में रिकवरी रेट 98% से ज्यादा है।पिछले डेढ़ हफ्तों की बात करें तो 17 दिन में 255 कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं।इसमें सबसे ज्यादा पॉजिटिव भोपाल में 115 आए हैं।वही 17 दिन में इंदौर में 86 संक्रमित मिले हैं।

सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने कोरोना के नए वेरिएंट और तीसरी लहर (New variants and Corona third wave) को प्रदेश में आने से रोकने के लिए टीकाकरण अत्यंत आवश्यक है।पिछले दिनों भोपाल, इंदौर सहित प्रदेश के कई जिलों में लगातार पॉजिटिव केस आ रहे हैं। पिछले दिनों इनकी संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है। यह हमें आगाह करने के लिए काफी है। जितने भी लक्षण दिखाई दे रहे हैं वो आने वाले संकट की आहट के प्रतीक हैं। सभी आवश्यक व्यवस्थाएँ पुख्ता रखें, कोरोना की तीसरी लहर न आने दें, ये चुनौती है।

यह भी पढ़े.. Good News: नौकरी छूट गई फिर भी मिलेगा PF-Pension का लाभ, जानें EPFO की नई अपडेट

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन का सामना जन-भागीदारी मॉडल के आधार पर किया जाए। प्रदेश में ऑक्सीजन प्लांट, वेंटीलेटर की उपलब्धता तथा अन्य सभी आपातकालीन आवश्यक व्यवस्थाएँ उपलब्ध हैं। हमारा प्रयास होगा कि इनकी आवश्यकता ही न पड़े। वर्तमान में मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य सावधानियों का कड़ाई से पालन करने के लिए वातावरण निर्माण की प्रक्रिया को गति दी जा रही है।

विदेश से आने वाले RTPCR टेस्ट अनिवार्य, 7 दिन क्वारंटाइन

बालाघाट मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (Balaghat CMHO) डा मनोज पांडेय ने बताया कि कोरोना संक्रमण को रोकने लिए विदेश से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को आरटीपीसीआर टेस्ट कराना अनिवार्य है । इसके साथ ही विदेश से आने वाले व्यक्ति को 7 दिन क्वेरंटाईन में रहना होगा । बालाघाट जिले में हाल ही में 5 लोगों के विदेश से आने की सूचना मिली है इन सभी लोगों का RTPCR टेस्ट करा लिया गया है।जिले में अभी कोरोना पाजेटिव मरीजों की संख्या शून्य हैं लेकिन असावधानी बरते जाने पर संख्या बढ़ सकती है।

Koo App

मुख्यमंत्री श्री @chouhanshivraj ने वैक्सीन के 9 करोड़ डोज़ पूरे होने पर दी बधाई शेष पात्र नागरिकों से टीकाकरण कराने की अपील दिखाई दे रहे लक्षण आने वाले संकट की आहट के प्रतीक हैं @pmoind श्री मोदी ने हर संकट में हम सब का बेहतरीन नेतृत्व किया नए वेरिएंट ओमिक्रॉन का सामना जन-भागीदारी मॉडल के आधार पर किया जाए प्रदेश में सभी आपातकालीन आवश्यक व्यवस्थाएँ उपलब्ध हैं

Jansampark MP (@JansamparkMP) 5 Dec 2021

MP में एक्टिव केस 130 पार, इन जिलों में सख्ती बढ़ाई, CM बोले- आने वाले संकट की आहट

विदेशों से आने वाले 9 व्यक्ति होम क्वॉरेंटाइन

मन्दसौर कलेक्टर (Mandsaur Collector) गौतम सिंह ने कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमी क्रोन के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा समस्त SDM को दिए निर्देश कि विदेशों से आने वाले व्यक्तियों को 7 दिन के लिए होम क्वॉरेंटाइन किया जाए और होम क्वॉरेंटाइन अवधि का सख्ती से पालन कराया जाए। यदि कोई व्यक्ति बाहर या नागरिकों के बीच पाया जाता है, तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए।जिले में विदेशों से 9 व्यक्ति आए थे, जिन्हें RRT टीम द्वारा होम क्वॉरेंटाइन किया गया है। उनमें से 4 व्यक्तियों के सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आई हैं 5 व्यक्तियों के सैंपल लिए गए हैं उनकी रिपोर्ट आना शेष है।

MP में एक्टिव केस 130 पार, इन जिलों में सख्ती बढ़ाई, CM बोले- आने वाले संकट की आहट