लोकार्पण और भूमिपूजन पर बवाल, अब निगम की समिति करेगी मुख्य अतिथि का नाम तय

79

ग्वालियर। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से ग्वालियर शहर में विकास कार्यों के भूमिपूजन और लोकार्पण को लेकर भाजपा-कांग्रेस आमने सामने रहीं है। अधिकांश विकास कार्यों के भूमिपूजन और लोकार्पण में मुख्य अतिथि के तौर पर या तो कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया शामिल होते हैं या सरकार के कोई मंत्री। इसे लेकर भाजपा ने हमेशा विरोध जताया। भाजपा का कहना है कि नगर निगम सीमा में इस समय जितने भी विकास कार्य चल रहे हैं वो सभी भाजपा शासनकाल में स्वीकृत हुए हैं इसलिए इनके भूमिपूजन और लोकार्पण में ग्वालियर के भाजपा सांसद विवेक शेजवलकर को भी बुलाना चाहिए लेकिन ऐसा नहीं होता। पिछले कुछ दिनों से नगर निगम परिषद् में भाजपा पार्षद इसपर विरोध जता रहे हैं। उनका कहना था कि लोकार्पण ऐसे लोग कर रहे हैं जो किसी भी पद पर नहीं है। पिछले दिनों राजीव प्लाजा गिर्राज मंदिर के पास बनी मल्टीलेवल पार्किंग का लोकार्पण ज्योतिरादित्य सिंधिया से कराने की बात सामने आने के बाद भाजपा ने विरोध तय किया जिसके बाद परिषद् ने पार्षदों की मांग पर इसके लिए पांच सदस्यीय समिति बना दी। इसमें  पार्षद कृष्ण राव दीक्षित, पार्षद दिनेश दीक्षित, पार्षद नीलिमा शिंदे, पार्षद ब्रजेश गुप्ता और पार्षद नरेन्द्र सिंह को रखा गया है। जो भविष्य में नगर निगम सीमा में होने वाले किसी भी भूमिपूजन और लोकार्पण के लिए मुख्य अतिथि का नाम तय करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here