नहाने गए 3 बच्चों की डूबने से मौत, मंत्री तुलसी सिलावट ने की सहायता राशि की घोषणा

नारेबाजी को देखते हुए अधिकारियों द्वारा खदान संचालक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। वहीं पुलिस ने जांच शुरू की है।

सिंगरौली

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) की आर्थिक राजधानी इंदौर (Indore) में एक बड़ा हादसा घटित हो गया। दरअसल इंदौर के समीप सांवेर (sanver) के धनखेड़ी गांव में नहाने गए तीन बच्चे की डूबने से मौत हो गई है। इधर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम (postmortem) के लिए भिजवाया है। साथ ही खदा मालिक पर FIR दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

दरअसल धनखेड़ी गांव के समीप पहाड़ी पर अवैध उत्खनन का कार्य जारी था। जिससे गड्ढों में बारिश का पानी जमा हो गया था। इसी बीच 14 वर्षीय आकाश, 10 वर्षीय हरीश और 15 वर्षीय लोकेश नहाने गए थे। तीनों बच्चे गहरे पानी में चले गए।। जिसके बाद डूबने से तीनों की मौके पर ही मौत हो गई है।

Read More: BJP को एक और झटका, 2 बार के विधायक ने थामा इस पार्टी का हाथ

वहीं पुलिस ने खदान मालिक दर्शन सिंह (darshan singh) के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है। साथ ही मंत्री तुलसीराम सिलावट (minister tusiram silawat)  ने मृतकों के परिजनों को सहायता राशि का ऐलान किया है।

Read More: MP News: 2 कर्मचारी और 10 लाइसेंस निलंबित, 1 दर्जन को नोटिस, वेतन वृद्धि भी रोकी

हालांकि बच्चों की डूबने की खबर आने के बाद भी पुलिस द्वारा FIR दर्ज नहीं की गई थी। जिसके बाद कांग्रेस नेत्री रीना बोरासी (Reena borasi) धनखेड़ी पहुंची थी। FIR दर्ज ना होने की बात पर लोगों के साथ चक्का जाम पर बैठ गई थी। नारेबाजी को देखते हुए अधिकारियों द्वारा खदान संचालक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। वहीं पुलिस ने जांच शुरू की है।