DA बढ़ने के बाद कर्मचारियों को अक्टूबर में कितनी बढ़कर मिलेगी सैलरी, देखें कैलकुलेशन

लंबित वेतनवृद्धि की शेष 50 प्रतिशत राशि, मार्च 2022 में भुगतान होने वाले फरवरी 2022 के वेतन के साथ दी जाएगी।

DA Calculation

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP Employees) के कर्मचारियों को दिवाली से पहले महंगाई भत्ते (DA Hike) का तोहफा मिल गया है। मप्र की शिवराज सरकार ने महंगाई भत्ते में 8% वृद्धि (7th Pay Commission) की घोषणा की है।इसके बाद अब महंगाई भत्ता 12% से बढ़कर 20% हो गया है।इसके अलावा वेतन वृद्धि की 50% राशि नवंबर माह के वेतन में और शेष 50% राशि मार्च 2022 के वेतन में मिलेगी।इस निर्णय से सरकार के खजाने पर सालाना 3000 करोड़ रुपये का वित्तीय भार आएगा।

यह भी पढ़े.. आज सुबह 10 बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे PM Modi, करेंगे बड़ी घोषणा!

प्रदेश के सभी कर्मचारियों का डीए 8 प्रतिशत बढ़ाया जाएगा। शासकीय सेवकों (Government Employess) को बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता नवम्बर 2021 में भुगतान होने वाले, अक्टूबर 2021 के वेतन में जुड़कर मिलेगा। इसके साथ ही अब प्रदेश के अधिकारी-कर्मचारियों  को मिलने वाला कुल डीए 12% से बढ़कर 20 प्रतिशत हो जाएगा।बीते साल कर्मचारियों को जुलाई 2020 और जनवरी 2021 में मिलने वाली वेतनवृद्धि भी स्थगित रखी गई थी। लेकिन राज्य सरकार ने अब यह निर्णय लिया है कि लंबित वेतनवृद्धि का 50 प्रतिशत नवम्बर 2021 में भुगतान होने वाले, अक्टूबर 2021 के वेतन के साथ दिया जाएगा।लंबित वेतनवृद्धि की शेष 50 प्रतिशत राशि, मार्च 2022 में भुगतान होने वाले फरवरी 2022 के वेतन के साथ दी जाएगी।

इसका फायदा 47.14 लाख केंद्रीय कर्मियों और 68.62 लाख पेंशनभोगियों (Pensionors) को मिलेगा।इसमें इंक्रीमेंट के एरियर की राशि मिलाकर कर्मचारियों को 3990 और अफसरों को 55160 रुपए ज्यादा मिलेंगे। अगले महीने कर्मचारियों के न्यूनतम डीए के 1200 रुपए और एरियर के 2790 रुपए मिलाकर 3990 रुपए वेतन में ज्यादा आएंगे। अफसरों के अधिकतम 17000 रुपए डीए और इंक्रीेमेंट की पहली किश्त के 38160 रुपए मिलाकर 55160 रुपए ज्यादा आएंगे। वार्षिक वेतन वृद्धि के एरियर के दोनों किश्तों को मिलाकर कर्मचारियों को 5580 रुपए तो अफसरों को अधिकतम 76320 रुपए मिलेंगे।वही चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन 15550 रुपए और अफसरों का अधिकतम वेतन 2.12 लाख रुपए है।

यह भी पढ़े.. SAHARA: सहारा ऑफिस की तालाबंदी, दो दिन पहले जोनल हेड ने दिया था इस्तीफा

प्रदेश में अभी कर्मचारियों को 12 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिल रहा है। जबकि, केंद्र सरकार अपने कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ाकर 28 फीसद कर चुकी है।इधर, सरकार के इस फैसले से कर्मचारियों पूरी तरह से खुश नहीं है, क्योंकि केंद्र सरकार सहित कई राज्यों की सरकार ने अपने कर्मचारियों को 1 जुलाई 2021 से 28% महंगाई भत्ता प्रदान कर दिया है, वहीं मध्यप्रदेश शासन में कार्यरत लाखों कर्मचारियों को अक्टूबर 2021 से 8 प्रतिशत महंगाई भत्ता जुलाई 2021 से ना देकर अक्टूबर 2021 से दिया जाएगा। ऐसा होने से 16 % महंगाई भत्ता नहीं मिलेगा और जो 8% मिल भी रहा है वह भी 3 महीने बाद मिलेगा।

ये है पूरा कैलकुलेशन

8% महंगाई भत्ता मिलने पर इतना हुआ फायदा

  1. प्रथम श्रेणी अधिकारी को 9848 से 16184
  2. द्वितीय श्रेणी अधिकारी को 4488 से 9040
  3. तृतीय श्रेणी कर्मचारी को 1560 से 5608
  4. चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को 1240 से 2320

अक्टूबर 2021 के वेतन में 50% वेतन वृद्धि से इतना मिलेगा फायदा

  1. चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को 2790 से 4800
  2. तृतीय श्रेणी कर्मचारी को 3510 से 12618
  3. द्वितीय श्रेणी अधिकारी को 10000 से 204 84
  4. प्रथम श्रेणी अधिकारी को 11079 रुपए से ₹36414

8% मंहगाई भत्ता जुलाई 2021से ना देने पर 3 महीने में हुआ इतना नुकसान

1- चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को 3720/- से 6960/-

2- तृतीय श्रेणी कर्मचारियों को 4680/- से 16824/-

3- द्वितीय श्रेणी अधिकारियों को 13464/- से 27120/-

4- प्रथम श्रेणी अधिकारियों को 29625/- से 48560/-