निकाय चुनाव से पहले MP कांग्रेस का बड़ा एक्शन-माणक अग्रवाल पार्टी से निष्कासित, मचा हड़कंप

वही मानक अग्रवाल को पार्टी से निकालने के बाद सम्भावना है कि उनके समर्थक भी बागी हो सकते है।

कांग्रेस

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। नगरीय निकाय (Urban Body Election 2021) और पंचायत चुनाव (Panchayat Election 2021) से पहले एमपी कांग्रेस ने बड़ी कार्रवाई की है। मप्र कांग्रेस कमेटी (MP Congress) ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता माणक अग्रवाल (Manak Agarwal) को प्राथमिक सदस्यता के साथ पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है।यह निर्णय तत्काल प्रभाव से लागू होगा।

यह भी पढ़े.. सियासी हलचल के बीच कांग्रेस विधायक जयवर्धन सिंह ने गुना कलेक्टर को लिखा पत्र, की ये मांग

दरअसल, अपने बयानों को लेकर हमेशा चर्चा में रहने वाले पूर्व प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता मानक अग्रवाल को आज सोमवार को हुई प्रदेश कांग्रेस की अनुशासन समिति की बैठक (Disciplinary committee meeting) में 6 वर्ष के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया  यह कार्रवाई मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर द्वारा की गई है।इस कार्रवाई के बाद कांग्रेस और अग्रवाल के समर्थकों में हड़कंप मच गया है।

बता दे कि अग्रवाल अपने तीखें बयानों और पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते अक्सर विवादों में रहते थे।हाल ही में उन्होंने ग्वालियर (Gwalior) के नाथूराम गोडसे (Nathuram Godse) के भक्त  बाबूलाल चौरसिया  (babulal chaurasia)  की कांग्रेस में एंट्री पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) पर निशाना साधा था और उन्हें कांग्रेस को डुबोने वाला तक बताया था माणक ने कहा था कि कमलनाथ यदि गोडसे की विचारधारा के साथ हैं तो उन्हें भी चौरसिया के साथ चले जाना चाहिए।

यह भी पढ़े.. MP College: सरकारी कॉलेजों को देना होगा यह जानकारी, उच्च शिक्षा विभाग का पत्र जारी

बीजेपी ने कांग्रेस को घेरा

एमपी कांग्रेस की इस कार्रवाई पर BJP ने तंज कसा है। बीजेपी नेता रजनीश अग्रवाल ने कहा है कि जो कांग्रेस के नेता कल तक मानक भाई के बयान को आंतरिक लोकतंत्र का उदाहरण बता कर अपनी पीठ थपथपाया करते थे, आज वे मुँह छिपा रहे हैं ? मानक भाई पर सटीक है कि हिम्मत से सच कहो तो बुरा मानते है लोग और रो रो के बात कहने की आदत नही रही।

यह भी पढ़े.. MP Weather: अगले 24 घंटों में बदलेगा मप्र का मौसम, यहां गरज-चमक के साथ तेज बारिश के आसार

वही उन्होंने आगे कहा कि @INCIndia के AICC सदस्य वरिष्ठ नेता मानक अग्रवाल जी को पार्टी से निष्कासन कांग्रेस पार्टी के भीतर अराजकता को उजागर करता है। मानक भाई के अनुसार उन्हें बाहर का करने का अधिकार इन्हें नहीं है फिर माजरा क्या है ? क्या अब अरुण यादव (Arun Yadav) जी की बारी है ? कांग्रेस के भीतर घमासान चालू आहे।

समर्थक बोले-PCC को अधिकार नहीं, AICC करेगा फैसला

इस कार्यवाही के बाद समर्थकों का कहना है कि माणक अग्रवाल AICC के सदस्य है। PCC के पास कोई अधिकार नहीं है उन्हें निष्कासित करने का। एआईसीसी प्रतिनिधि पर कार्रवाई करने का अधिकार सिर्फ राष्ट्रीय अध्यक्ष के पास होता है, जो कि सोनिया गांधी है।

हो सकते है कई समर्थकों के इस्तीफे

वही मानक अग्रवाल को पार्टी से निकालने के बाद सम्भावना है कि उनके समर्थक भी बागी हो सकते है।चुंकी भोपाल (Bhopal) समेत होशंगाबाद (Hoshangabad) जिले में मानक समर्थको की भरमार है। हो सकता है। 100 से ज्यादा काँग्रेस कार्यकर्ता इस्तीफा दें, जिसका फायदा बीजेपी को आगामी चुनावों में मिल सकता है।

कांग्रेस