खरीफ फसल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पिछले 24 घंटे से मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज बदला हुआ है और भोपाल, देवास, सीहोर हरदा सहित कई जिलों में बारिश (rain) के साथ साथ ओले (hail) भी पड़ रहे हैं। किसानों के लिए मायूसी की बात यह है कि इस समय गेहूं की फसल खेतों में पककर खड़ी है और यही हाल चने की फसल का भी है। कहीं फसल खड़ी है या कहीं कट रही है। ऐसी स्थिति में भारी वर्षा या ओलावृष्टि फसल को नष्ट कर देगी। इसे देखते हुए मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने बड़ी घोषणा की है।

ये भी देखिये- MP: सीएम शिवराज सिंह की दो टूक-अगर ऐसा हुआ तो जिम्मेदार होंगे कलेक्टर-अधिकारी

वर्षा और ओलावृष्टि को दृष्टिगत रखते हुए कृषि मंत्री कमल पटेल (kamal patel) ने सभी जिलों के कलेक्टरों को निर्देश दिए हैं कि वे अपने-अपने जिलों में हुई वर्षा या ओलावृष्टि हुई तुरंत वीडियोग्राफी कराएं और यह काम जल्द से जल्द शुरू हो जाना चाहिए। दरअसल मालवा विशेषकर देवास और हरदा सहित कई जिलों में ओलावृष्टि की भी खबरें हैं। भोपाल में भी वर्षा हो रही है। कमल पटेल ने कहा है कि किसानों का संकट उनका संकट है और सरकार पूरी तरह से किसानों के साथ खड़ी है। कलेक्टर को निर्देश दिए गए हैं कि वे मौके का पंचनामा बनाकर जल्द राहत के बारे में अपनी रिपोर्ट सरकार को भेजे और आरबीसी 6(4) के तहत किसानों को जो सहायता दी जाती है वह सहायता देने की पूरी विधिक प्रक्रिया करें।