भाजपा का जबरदस्त विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने भांजी लाठियां, सांसद समेत सैंकड़ों कार्यकर्ता गिरफ्तार

-BJP's-tremendous-protest-in-gwalior-police-lathicharge

ग्वालियर। मध्य प्रदेश में लोकार्पण, भूमिपूजन को लेकर सरकार और विपक्ष में ठनी हुई है| राजधानी भोपाल में बीजेपी विधायक विश्वास सारंग द्वारा विवेकानंद थीम पार्क के लोकार्पण पर हुए विवाद के बाद अब ग्वालियर में बड़ा हंगामा हुआ है|  श्रेय की राजनीति को लेकर भाजपा और कांग्रेस आमने सामने है| ग्वालियर में एक हजार बिस्तर के अस्पताल का भूमिपूजन पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से कराये जाने के खिलाफ भाजपा ने सड़क पर उतर का बड़ा प्रदर्शन किया| वहीं स्तिथि संभालने पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर जमकर लाठियां बरसाईं। हालात इतने तनाव वाले हो गए कि पुलिस को वॉटर कैनन और आंसू गैस का भी इस्तेमाल करना पड़ा। इस हंगामे के बाद पुलिस ने विरोध का नेतृत्व कर रहे सांसद अनूप मिश्रा समेत सैंकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है| 

सांसद अनूप मिश्रा के नेतृत्व में भाजपा ने कटोराताल के सामने शीतला सहाय की प्रतिमा के नीचे जाम लगा दिया।   उधर कांग्रेस भी मांढरे की माता नीचे भाजपा  विरोध का जवाब देने के लिए तैयार थी। टकराव के हालात देखते हुए पुलिस ने बैरिकेड्स लगा रखे थे।  भाजपा नेताओं ने जैसे ही पुलिस की सुरक्षा भेदने की कोशिश की तो पुलिस ने पहले लाठीचार्ज किया, फिर वाटर केनन का इस्तेमाल किया।  और सांसद अनूप मिश्रा के नेतृत्व में लगभग 150 भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया।  

जयारोग्य अस्पताल के पास बनने वाले एक हजार बिस्तर के अस्पताल का भूमिपूजन सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा किये जाने की घोषणा के बाद से ग्वालियर की राजनीति में अचानक उबाल आ गया।  मुरैना सांसद एवं तत्कालीन चिकित्सा शिक्षा मंत्री अनूप मिश्रा ने विरोध का एलान कर दिया उनका कहना था कि 2009 में तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इसका भूमिपूजन कर चुके हैं तो फिर से भूमिपूजन क्यों ? तय कार्यक्रम के तहत भाजपा नेता हजारों की संख्या में सांसद अनूप मिश्रा के नेतृत्व में  सुबह से ही कटोराताल पहुँच गए और पूर्व मंत्री शीतला सहाय की प्रतिमा पर माल्यार्पण का बीच सड़क पर विरोध करने बैठ गए। विरोध की घोषणा को देखते हुए पुलिस पहले से ही चौकन्नी थी।  उसने बैरिकेड्स लगा  रखे थे और भाजपा नेताओं से शांति की अपील कर रही थी।  पुलिस के रोकने के भाजपा नेता उग्र हो गए और बैरिकेड्स तोड़ने का प्रयास किया, पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया फिर भी नहीं माने तो वाटर केनन का प्रयोग  कर उन्हें पीछे धकेल दिया।  पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने अनूप मिश्रा सहित सभी नेताओं को समझने की बहुत कोशिश की लेकिन अनूप मिश्रा का कहना था कि फिर से भूमिपूजन कर कांग्रेस गलत काम कर रही है और श्रेय की राजनीति कर रही है।  अनूप मिश्रा ने कहा प्रशासन ने ग्वालियर सांसद नरेंद्र सिंह का अपमान किया है प्रोटोकॉल  उन्हें अतिथि के साथ बैठाया जाना था लेकिन उन्हें विशिष्ट अतिथि बना दिया।  जब भाजपा नेता वहां से नहीं हटे  तो पुलिस ने लगभग 150 भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया।  

भाजपा का जबरदस्त विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने भांजी लाठियां, सांसद समेत सैंकड़ों कार्यकर्ता गिरफ्तार

इससे पहले भाजपा नेताओं ने  मुन्नलाल गोयल को घेर लिया।  वे कार्यक्रम में शामिल होने जा रहेथे। जैसे ही वे निकले भाजपाइयों ने उन्हें घेर लिया।  उनके साथ झूमाझटकी भी हुई।  फिर पुलिस ने उन्हें सुरक्षित वहां से निकाला।  उधर भाजपा के विरोध  का जवाब देने के लिए कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मांढरे की माता के नीचे मौजूद रहे। बहरहाल लोकसभा चुनावों को देखते हुए  पार्टियां अभी से मैदान में कूद गईं हैं।  और ये बताने का प्रयास कर रहीं हैं कि  विकास को लेकर वहीँ जनता की सच्ची हितैषी है।  

भाजपा का जबरदस्त विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने भांजी लाठियां, सांसद समेत सैंकड़ों कार्यकर्ता गिरफ्तार

भाजपा का जबरदस्त विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने भांजी लाठियां, सांसद समेत सैंकड़ों कार्यकर्ता गिरफ्तार

भाजपा का जबरदस्त विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने भांजी लाठियां, सांसद समेत सैंकड़ों कार्यकर्ता गिरफ्तार