कांग्रेस ने शिवराज सरकार पर लगाया मध्य प्रदेश की अर्थव्यवस्था चौपट करने का आरोप, सुप्रिया श्रीनेत ने उठाए सवाल

Supriya shrinate

कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि मध्य प्रदेश में भाजपा वाली शिवराज सिंह सरकार के 18 सालों में अर्थव्यवस्था खस्ताहाल हुई है। प्रदेश में चालीस लाख युवा बेरोज़गार हैं, महंगाई से बुरा हाल और कर्ज़ बढ़ गया है और चारों तरफ भ्रष्टाचार का बोलबाला है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इस बार मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को प्रचंड बहुमत मिलेगा क्योंकि जनता अपने अधिकार की चोरी का बदला लेगी।

बीजेपी पर प्रदेश को कर्ज़ में डुबोने का आरोप

सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि आज की तारीख़ में राज्य सरकार के ऊपर क़रीब 4 लाख करोड़ का कर्ज़ है, क़रीब 20 हज़ार करोड़ से ज़्यादा  ब्याज चुकाती है शिवराज सरकार। मोटे तौर पर इस समय मध्यप्रदेश के प्रति व्यक्ति पर 40,000 से ज़्यादा का कर्ज़ा है। एक लाख करोड़ का कर्ज़ा तो पिछले दो सालों में ले लिया गया, जिसके चलते 5 साल में कर्ज़ा भी दोगुना हो गया है। उन्होने कहा कि कर्ज़ बढ़ता गया और आमदनी जस की तस। अगर सरकार ने क़र्ज़ लिया था तो निवेश करते, रोज़गार बनाते, पर बीजेपी सरकार ने आमदनी बढ़ाने के लिए कोई कदम नहीं उठाया जिसके चलते सरकार का घाटा मतलब आमदनी और ख़र्चे के बीच का जो अंतर होता है वो तीन साल में तिगुना बढ़कर 54,000 करोड़ पहुँच गया है। कर्ज़ में डूबी हुई सरकार रोज़गार और न तो नहीं सोचती, लेकिन भ्रष्टाचार बेलगाम है, ऐसा कोई क्षेत्र नहीं है जहां घोटाले नहीं हुए हों।

Continue Reading

About Author
श्रुति कुशवाहा

श्रुति कुशवाहा

2001 में माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय भोपाल से पत्रकारिता में स्नातकोत्तर (M.J, Masters of Journalism)। 2001 से 2013 तक ईटीवी हैदराबाद, सहारा न्यूज दिल्ली-भोपाल, लाइव इंडिया मुंबई में कार्य अनुभव। साहित्य पठन-पाठन में विशेष रूचि।