सांसद प्रज्ञा ठाकुर के विवादित बोल, कहा- पश्चिम बंगाल में ताड़का की सरकार

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। अपने बयानों से लगातार चर्चा में रहने वाली बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर (MP Sadhvi Pragya Thakur) ने पश्चिम बंगाल (West Bengal) में हो रही हिंसा पर फिर विवादित बयान दिया है। उन्होने कहा है कि यहां ताड़का का शासन हो गया है। इस तरह प्रज्ञा ठाकुर ने पश्चिम बंगाल सरकार और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पर विवादित टिप्पणी की है।

राष्ट्रीय लोक दल के प्रमुख अजीत सिंह का निधन, कोरोना संक्रमित होने के बाद चल रहा था इलाज

भोपाल सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने पश्चिम बंगाल में हो रही हिंसा पर निशाना साधा है। लेकिन उन्होने जिस तरह की भाषा का प्रयोग किया, उससे विवाद खड़ा हो गया है। साध्वी प्रज्ञा ने एक ट्वीट करते हुए लिखा है कि ‘मुमताज लोकतंत्र। हिंदुओं, भाजपा के बंगाल के कार्यकर्ताओं की निर्मम हत्या, बलात्कार। हे कलंकिनी…बस्स्स। ‘शठे शाठ्यम समाचरेत, टिट फॉर टैट करना ही होगा। राष्ट्रपति शासन और एनआरसी बस यही उपाय हैं। संतों और वीरों की भूमि पर ताड़का का शासन हो गया। अब तो राम बनना ही होगा। जय श्री राम।’ इस तरह सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगाने के साथ एनआरसी लागू करने की मांग की है। लेकिन उन्होने जिस तरह की भाषा का प्रयोग किया है, उससे विवाद की स्थिति बनती नजर आ रही है।