अब ‘कमल’ छाप साड़ी को लेकर सुर्खियों में शहडोल कलेक्टर, कांग्रेस को आपत्ति

controversy-on-Shahdol-Collector-anubha-shrivastav-Saree-congress-objection-

शहडोल| सोशल मीडिया पर कथित व्हाट्सएप चैट वायरल होने के बाद शहडोल कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव एक बार फिर सुर्ख़ियों में हैं| इस बार उनकी साड़ी को लेकर विवाद खड़ा हो गया है| गणतंत्र दिवस के मौके पर कलेक्टर द्वारा पहनी हुई कमल छाप साड़ी को लेकर राजनीति गरमा गई है| कांग्रेस ने इसको लेकर आपत्ति जताई है और मामले की शिकायत मुख्यमंत्री कमलनाथ से करने की बात कही जा रही है| वहीं कलेक्टर ने मीडिया से कहा कि इस मामले का तूल ना दे।

दरअसल शहडोल कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव ने गणतंत्र दिवस पर जिले के गांधी स्टेडियम में ध्वजारोहण किया। इस मौके पर ध्वजारोहण करते वक्त उन्होंने जो साड़ी पहनी थी उसको लेकर आपत्ति जताई जा रही है| साड़ी पर कमल का फूल प्रिंट था, जिसे लेकर कांग्रेस विधायक फुंदेलाल मार्को ने सवाल उठाए है और आपत्ति दर्ज की है| कलेक्टर की फूलछाप साडी की फोटो और वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं| एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ इन फोटो वीडियो की पुष्टि नहीं करता है|

कलेक्टर की साड़ी को लेकर विवाद खड़ा हो गया है| कांग्रेस विधायक का आरोप है कि यह एक पार्टी के प्रति मानसिकता दर्शाता है| कमल का निशान बीजेपी का चुनाव चिन्ह है| उन्होंने कहा कि कलेक्टर को ऐसा नहीं करना चाहिए था यह आपत्तिजनक है| जिस तरह हाल ही में उनकी कथित व्हाट्सएप चैट वायरल हुई थी, जिसको लेकर संदेह के सवाल उठ रहे है, उसी तरह अब यह एक और मामला सामने आया है जो उन ख़बरों को प्रमाणित कर रहा है| उन्होंने कहा इस मामले को सीएम कमलनाथ के संज्ञान में लाएंगे और संभाग के सभी वरिष्ठ जनों से भी चर्चा हुई है|

बता दें कि इससे पहले शहडोल कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव और डिप्टी कलेक्टर पूजा तिवार की कथित व्हाट्सएप चैट का स्क्रीनशॉट पिछले दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था|  जिसमे कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव और डिप्टी कलेक्टर पूजा तिवारी के बीच भाजपा को जिताने व कांग्रेस को हराने की बातचीत का जिक्र था| मामले की जांच पूरी भी नहीं हो पाई थी कि ध्वजारोहण कार्यक्रम में कमल छाप साड़ी पहनना उनकी एक और मुसीबत का कारण बन गया है।