डीजीपी ने दी पुलिस को अनुशासन की नसीहत, महिला अपराध रोकना पहली प्राथमिकता

DGP-vk-singh-said-women-security-is-priority-

भोपाल। मध्य प्रदेश के नवागत डीजीपी वीके सिंह ने पदभार संभालने के बाद मीडिया से रूबरू हुए और उन्होंने अपने काम करने के तरीको का नजरिया पेश किया। उन्होंने पुलिस की कार्यशैली को बदलने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि पुलिस को प्रोफेसनल तरीके से काम करना होगा। अपने कामकाज में पुलिस को अनुशासन बरतना होगा। अब केस को निपटाने के लिए अत्याधुनिक संसाधन को इस्तेमाल करने पर भी उन्होंने जोर दिया। उन्होंने कहा कि सरकार का वचन पत्र को पूरी तरह से फॉलो किया जाएगा। पहले से भी इसपर काम किया जा रहा है। 

पुलिस को साप्ताहिक अवकाश के मामले पर उन्होंने कहा कि ये लागू किया जाएगा। सैधांतिक रूप से कोई दिक्कत नहीं है।  उन्होंने कहा कि पुलिस क्राइम को कंट्रोल करने के लिए टीम भावना के साथ काम करे। उन्होंने कहा कि एसपी को कप्तान इसिलए बोला जाता है ताकि वह टीम को लीड करे और एक साथ सबसे काम करवाए। उन्होंने कहा कि हमारा पहला प्रयास होगा महिला अपराध पर लगाम लगाना। जबतक प्रदेश में एक भी महिला खुद को सुरक्षिक महसूस नहीं करेगी तबतक पुलिस पर सवाल उठते रहेंगे। इसलिए हमारा पहला उद्दश्य होगा महिलाओं को पूर्ण रूप से सुरक्षा मुहैया कराना। 

प्रदेश के कई जिलों में सट्टे को लेकर भी लगातार शिकायतें मिलती रही हैं। जुआं और सट्टा को रोकने के लिए पुलिस को गंभीर कदम उठाना होगा। वहीं, नशे की लत से जूझ रहे युवाओं को बचाने के लिए भी पुलिस को काम करना होगा। प्रदेश के युवाओं को बेहतर वातावरण देना होगा। यही नहीं आगामी लोकसभा चुनाव में भी पुलिस को बड़ी जिम्मेदारी निभाना होगी। लोकसभा चुनाव शांति पूर्वक तैयार करने के लिए पुलिस अभी से तैयार रहे। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here