कृषि विभाग का एक और अधिकारी 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगेहाथों ट्रैप

3624

हरदा | मध्य प्रदेश में कृषि विभाग में चल रहा शुद्ध के लिए युद्ध अभियान अधिकारियों के लिए कमाई का जरिया बन गया है| कृषि विभाग के अधिकारी खाद-बीज व्यापारियों को धमका कर वसूली कर रहे हैं।  पिछले दिनों भोपाल में कृषि विभाग के संयुक्त संचालक उत्तम सिंह जादौन दो लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किये गए थे|अब शनिवार को हरदा में कृषि विभाग के सहायक संचालक को पचास हजार की रिश्वत लेते पकड़ा गया है| शनिवार को ही कृषि विभाग का ही एक अधिकारी भिंड में 2 हजार की रिश्वत लेते धरा गए| 

जानकारी के मुताबिक फरियादी राहुल कुमार गुर्जर निवासी छीरपुरा जिला हरदा ने लोकायुक्त भोपाल को शिकायत की थी| जिसमे उन्होंने बताया थी उसकी कीटनाशक दवा की दुकान रेह्टगांव में हैं।  सहायक संचालक कृषि हरदा रमेश कुमार अखण्डे उसकी दुकान पर आए और दवाओं के सेंपल लेकर चले गए थे । उन दवाओं कों जांच के लिए ना भेजने के एवज में पहले 2 लाख रुपए की मांग रमेश कुमार अखण्डे द्वारा की गयी।  जो बाद में 1 लाख 20 हजार लेने पर सहमत हुआ।  इस रिश्वत मांग की रेकॉर्डिंग करायी गयी । 

शिकायत की तस्दीक के बाद पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त भोपाल के निर्देशन में गठित टीम द्वारा फरियादी राहुल कुमार गुर्जर से रिश्वत की पहली किश्त 50 हजार रुपए लेते हुए आरोपी रमेश कुमार अखण्डे, सहायक संचालक कृषि हरदा रंगे हाथों पकड़ा गया और 50 हजार रुपए रिश्वत राशि बरामद की गई टीम में डी एस पी श्री संजय जैन  निरीक्षक उमा कुशवाह,  संजय शुक्ला,   मनोज पटवा सहित 12 सदस्य शामिल रहे| 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here