गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान – सुराणा को कैराना नहीं बनने देंगे, बनाई गई कमेटी

नरोत्तम मिश्र ने कहा कि कमेटी में SDM अधिकारी एवं दोनों पक्षों के दो-दो व्यक्ति रहेंगे। जो अपराधी प्रवृत्ति के हैं, उनको जिलाबदर किया जाएगा

नरोत्तम मिश्रा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्यप्रदेश (MP) के रतलाम (Ratlam) जिले के सुराणा विवाद (surana controversy) में अब गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (narottam mishra) का बड़ा बयान सामने आया है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि पुलिस अधिकारियों से इस बारे में चर्चा की गई है। मैं खुद रतलाम प्रशासन से बात करूंगा। किसी को भी डरने की जरूरत नहीं है। हिंदुओं को अपने घर से कोई नहीं निकाल सकता है।

मध्यप्रदेश के गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्र ने कहा कि आज सुबह मीडिया के माध्यम से जैसे ही मामला मेरे संज्ञान में आया। मैंने तत्काल SP और Collector से बातकर उन्हे सुराना गांव जाने के लिए कहा है। कलेक्टर SP सहित अन्य अधिकारी गांव पहुंचे और उन्होंने दोनों पक्ष की बात सुनी। एक बात तो तय है मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार है। शिवराज सिंह की सरकार है, किसी भी कीमत पर सुराणा को कैराना नहीं बनने देंगे। उस सोच को नेस्तनाबूद कर देंगे।

नरोत्तम मिश्र ने कहा कि किसी में हिम्मत नहीं है कि सुराणा को कैराना बना दे। फिलहाल सुराना में अस्थाई पुलिस चौकी बना दी है। SI सहित 10 लोगों को वहा पर नियुक्त कर दिया है। पीड़ित लोगों को जो परेशानी है, वहां कलेक्टर की देखरेख में एक कमेटी बनाई गई है।

Read More : मध्य प्रदेश स्थानीय निकाय चुनाव : OBC आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, जाने अपडेट

नरोत्तम मिश्र ने कहा कि कमेटी में SDM अधिकारी एवं दोनों पक्षों के दो-दो व्यक्ति रहेंगे। जो अपराधी प्रवृत्ति के हैं, उनको जिलाबदर किया जाएगा और जो गांव में नाली वगैरह की परेशानी है। उसको भी एक माह के अंदर उस परेशानी का निराकरण किया जाएगा। मध्य प्रदेश के अंदर भय का माहौल नहीं बनने दिया जाएगा। जो कुत्सित प्रयास करेगा, उसको नेस्तनाबूद कर दिया जाएगा।

बता दे कि कई दिनों से रतलाम जिले के सुराणा गांव में लगातार विवाद देखने को मिल रहा है। मामला इतना बढ़ा की बात मारपीट तक पहुंच गई। मंगलवार को इसी को लेकर बड़ा हंगामा मच गया। जब सुराणा के हिंदू परिवारों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। जिसमें कहा गया था कि वह दुखी हैं, उनको अपनी जन्मभूमि छोड़ने को मजबूर किया जा रहा है।

हिंदू परिवारों को कहना था कि दो पक्षों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि परेशान होकर वहां के हिंदू परिवार को गांव छोड़ने की नौबत आ गई है। इसके साथ ही लोगों ने अपने घरों के बाहर मकान बिकाऊ है तक लिख दिया है। वहीं मामला गृहमंत्री के नजर आने के बाद अब इस पर नरोत्तम मिश्रा ने संज्ञान लिया है और बिगड़ते हालात को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती सुराणा गांव में कर दी गई है।