ममता सरकार पर कैलाश का हमला, बोले- ‘पश्चिम बंगाल में प्रजातंत्र नहीं अराजकता है’

kailash-attack-on-mamta-government-

भोपाल/कोलकाता। बंगाल की सियासत में एक बार फिर भूचाल आ गया है। चर्चित चिटफंड घोटाले में कोलकाता कमिश्नर का नाम आने के बाद सीबीआई रविवार को उनके निवास पर पूछताछ करने पहुंची थी। लेकिन स्थानीय पुलिस ने सीबीआई को कमिश्नर के घर में जाने से रोक दिया। दोनों के बीच तकरार बढ़ गई। खबर है कि बंगाल पुलिस ने सीबीआई अफसरों के साथ मारपीट भी की। इस पूरे घटनाक्रम को लेकर अब बीजेपी ने ममता सरकार को निशाने पर ले लिया है। बंगाल प्रभारी और बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने हमला बोला है। 

उन्होंने सोयसल मीडिया पर एक वीडियो जारी कर कि, ‘ पश्चिम बंगाल में आज जो भी हुआ वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। सीबीआई की जांच सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर हो रही है। सीबीआई की जांच २०१४ के पहले से हो रही है। ममता जी जिस प्रकार मोदी जी को बदनाम करने की कोशिश कर रही हैं। हम उसकी निंदा करते हैं। यहां दुनिया देख रही है पश्चिम बंगाल में आज प्रजातंत्र  खत्म हो गया। आज इसका जीता जातगा उदाहरण है सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद सीबीआई जांच कर रही है। उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया। सीबीआई की टीम की जान को खतरा है। हम ममता जी की सराकर में जो अराजकता चल रही है हम उसकी निंदा करते हैं। और केंद्र सरकार से भी अग्रह करेंगे कि जो अधिकारी इमानदारी से काम करना चाहते उनको संरक्षण दिया जाए। ‘

गौरतलब है कि बंगाल में भारतीय जनता पार्टी लंबे समय से अपनी जमीन तैयार करने में जुटी है। वहीं, ममता सरकार पर लगातार इस बात के आरोप लगते रहे हैं कि बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्याओं के पीछे राजनीति कारण हैं। रविवार को सीबीआई अधिकारी चिटफंड घोटाले के मामले में जांच करने के लिए कोलकात कमिश्नर के घर पहुंचे थे। पश्चिम बंगाल के बहुचर्चित शारदा चिटफंड और रोज वैली घोटाला मामले में कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार का नाम भी सामने आया है. जिसके बाद सीबीआई और कोलकाता पुलिस आमने-सामने है.  रविवार शाम सीबीआई की एक टीम कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर छापा मारने पहुंची. इसे लेकर सीबीआई टीम और कोलकाता पुलिस की टीम के बीच कहासुनी के बाद हाथापाई की खबर है।