किसानों से धोखाधड़ी का मामला, कमल पटेल ने प्रभारी सचिव को किया तत्काल प्रभाव से निलंबित

कार्रवाई करते हुए कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि लापरवाह और गैर जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। किसानों से बेईमानी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

कृषि मंत्री

भोपाल/राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में किसानों (farmers) से धोखाधड़ी करने मामले में प्रभारी सचिव को तत्काल प्रभाव से निलंबित (suspend) किया गया है। निलंबन की कार्रवाई कृषि मंत्री कमल पटेल (kamal patel) द्वारा की गई है। वहीं कृषि मंत्री ने कहा कि गैर जिम्मेदार लोगों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी और किसी भी स्थिति में उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।

दरअसल मामला छापीहेड़ा कृषि उपज मंडी का है। जहां प्रभारी सचिव हरीप्रसाद वर्मा (hariprasad verma) की शिकायत मिलने के बाद कृषि मंत्री ने सख्त कार्रवाई करते हुए को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। कार्रवाई करते हुए कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि लापरवाह और गैर जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। किसानों से बेईमानी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Read More: राज्य शासन ने पी. नरहरि को सौंपी बड़ी जिम्मेदारी, मिला अतरिक्त प्रभार

बताया जा रहा है कि राजगढ़ जिले में कृषि उपज मंडी निरीक्षक और प्रभारी सचिव हरिप्रसाद वर्मा को दुकान के नियम विरुद्ध नीलामी करने पर निलंबित किया गया है। इस मामले में जानकारी देते हुए मध्यप्रदेश राज्य कृषि विपणन बोर्ड की संयुक्त प्रबंध संचालक प्रियंका दास ने बताया कि प्रभारी सचिव हरिप्रसाद वर्मा द्वारा नीलामी संबंधित सूचना पत्र जारी न करने पर ये कार्रवाई की गई है।

साथ ही निर्धारित दर से कम कीमत में दुकान को नीलाम कर मंडी को आर्थिक क्षति पहुंचाने के मामले में दोषी पाया गया है। इसके साथ ही साथ उन्हें कार्य में अनियमितता बरतने के मामले में भी संलिप्त पाया गया। जिसके बाद उन पर यह कार्रवाई की गई।