मंत्रियों, विधानसभा स्पीकर समेत नेता प्रतिपक्ष का बढ़ेगा स्वेच्छानुदान, कैबिनेट में पेश होगा प्रस्ताव

भोपाल।  राज्य सरकार कैबिनेट मंत्रियों के स्वेच्छानुदान की राशि 50 लाख से बढ़ाकर 1 करोड़ रुपए करने जा रही है। राज्य मंत्रियों का स्वेच्छानुदान भी 35 लाख से बढ़ाकर 50 लाख रुपए किया जा रहा है। वित्त विभाग इस पर सहमत हो गया है। अब इसे मंजूरी के लिए आगामी कैबिनेट बैठक में लाया जाएगा। अभी प्रदेश सरकार में सभी 28 मंत्री कैबिनेट हैं, कोई भी राज्यमंत्री नहीं है। इसलिए सभी मंत्रियों को हर साल कैबिनेट से प्रस्ताव पारित होने के बाद हर साल 1 करोड़ रुपए की स्वेच्छानुदान की राशि मिल सकेगी।

सूत्रों के मुताबिक सामान्य प्रशासन, संसदीय कार्यमंत्री एवं सहकारिता मंत्री डॉ.गोविंद सिंह ने स्वेच्छानुदान बढ़ाने का मुद्दा उठाया था। कुछ अन्य मंत्रियों ने भी क्षेत्रीय जरूरतों का हवाला देते हुए स्वेच्छानुदान की राशि 50 लाख रुपए सालाना को बढ़ाने की मुख्यमंत्री कमलनाथ के सामने रखी थी। मुख्यमंत्री ने भी इस राशि को बढ़ाए जाने पर सहमति जताई थी। बताया जा रहा है कि मंत्रियों के साथ-साथ विधानसभा अध्यक्ष, नेता प्रतिपक्ष और उपाध्यक्ष का स्वेच्छानुदान भी बढ़ाया जाएगा।