MP College: छात्रों के लिए बड़ी खबर, उच्च शिक्षा मंत्री ने दिए ये निर्देश, प्राचार्यों को भी पत्र जारी

डॉ. मोहन यादव ने कहा कि मुक्त विश्वविद्यालय द्वारा 580 अध्ययन केन्द्रों को बढ़ाकर 1 हजार किया जाए। इसके लिये अभियान चलायें। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा स्वीकृत पाठ्यक्रमों से जोड़ने का प्रयास करें।

mp college

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव (Higher Education Minister Dr. Mohan Yadav) का बड़ा बयान सामने आया है। उच्च शिक्षा मंत्री यादव ने कहा कि मध्यप्रदेश भोज (मुक्त) विश्वविद्यालय दूरस्थ शिक्षा पद्धति से संचालित प्रदेश का एकमात्र शासकीय विश्वविद्यालय (MP Government College) है। इसमें अपेक्षानुसार प्रवेश बढ़ाने के लिये एडमिशन प्रक्रिया को और सरल बनाने की आवश्यकता है। दूरस्थ शिक्षा पद्धति से संचालित की जा रही भोज विश्वविद्यालय की जानकारी ग्रामीण स्तर पर भी हो, इसके लिये प्रचार-प्रसार करें।

यह भी पढ़े.. MP News: लापरवाही पर 2 निलंबित, 9 कर्मचारियों को नोटिस, 6 तहसीलदारों का वेतन काटा

दरअसल, उच्च शिक्षा मंत्री यादव सोमवार शाम को मंत्रालय में भोज मुक्त विश्वविद्यालय (Bhoj Open University) की GER बढ़ाने पर चर्चा कर रहे थे। इस दौरान मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि मुक्त विश्वविद्यालय द्वारा 580 अध्ययन केन्द्रों को बढ़ाकर 1 हजार किया जाए। इसके लिये अभियान चलायें। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा स्वीकृत पाठ्यक्रमों से जोड़ने का प्रयास करें। सभी 52 जिलों में उच्च शिक्षा विभाग (Higher Education Department) के प्लेसमेंट अधिकारी मुक्त विश्वविद्यालय के लिये नोडल अधिकारी के रूप में कार्य करेंगे। वे जिला और पंचायत स्तर पर बैठक कर मुक्त विश्वविद्यालय के सकारात्मक पहलू और इसके फायदे के बारे में जानकारी देंगे।

यह भी पढ़े.. Cabinet Meeting: शिवराज कैबिनेट बैठक आज, इन प्रस्तावों को मिल सकती है मंजूरी

उच्च शिक्षा के प्रमुख सचिव अनुपम राजन ने कहा कि भोज मुक्त विश्वविद्यालय में प्रवेश प्रक्रिया व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाना आवश्यक है। Redio, TV, विज्ञापन तथा आकाशवाणी के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों तक इस बात को पहुँचाना जरूरी है कि मुक्त विश्वविद्यालय की डिग्री की अन्य विश्वविद्यालयों की तरह ही मान्यता है। भोज मुक्त विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. जयंत सोनवलकर ने सकल पंजीयन अनुपात में वृद्धि के लिये किये गये प्रयासों, विश्वविद्यालय द्वारा अध्ययन केन्द्रों को प्रदाय किये जा रहे सहयोग तथा आगामी कार्य-योजना के संबंध में विस्तृत जानकारी दी।

PG कॉलेज में भोज विवि में प्रवेश की अंतिम तिथि 15 नवंबर

पीजी कॉलेज खरगोन के भोज अध्ययन केन्द्र पर इस वर्ष 2021 में प्रवेश की अंतिम तिथि 15 नवंबर निर्धारित की गई है। PG कॉलेज एक अग्रणी कॉलेज है इसलिये इस कॉलेज मे भोज विवि के अधिकांश कोर्स संचालित हो रहे है। कॉलेज के अध्ययन केन्द्र पर इच्छुक विद्यार्थी BA, बीकॉम, BSC गणित/बायो/IT, एमए (हिन्दी साहित्य, समाजशास्त्र, राजनीति विज्ञान, अर्थशास्त्र, भूगोल इतिहास), MSW, MSC (जूलाजी, बाटनी, केमेस्ट्री, फिजिक्स, गणित), MBA (3 वर्षीय), BBA, DCA, MSC IT और भी अन्य कोर्स में प्रवेश ले सकते है।

भोज विवि में असाइनमेन्ट 30 अंक के होते है। आइनमेन्ट विद्यार्थी को घर से लिखकर कॉलेज मे जमा करना होता है। यह सुविधा विद्यार्थियों के लिये खास है क्योंकि इन अंकों के अलावा सिर्फ 70 अंको के लिए ही मुख्य परीक्षा देनी होती है। इस सुविधा से विद्यार्थी आसानी से उत्तीर्ण हो जाते है और कम मेहनत मे अधिक प्रतिशत बना सकते है। साथ ही छात्रों को अध्ययन के लिये पुस्तके भी दी जाती है। अधिक जानकारी के लिये प्रभारी राजेन्द्र पाटील से मोबाईल नं 9753786111 पर सम्पर्क कर सकते है।

सभी महाविद्यालयीन प्राचार्य, छात्रों के नाम मतदाता सूची  

भिण्ड के अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी प्रवीण फुलपगारे ने जिले के सभी महाविद्यालयों (College) के प्राचार्यो को पत्र जारी कर कहा है कि उनके यहां अध्ययनरत सभी छात्र-छात्राओं जिनकी उम्र 1 जनवरी 2022 की स्थिति में 18 वर्ष या उससे अधिक हो गई है तो वह आव्हान के अन्तर्गत मतदाता सूची में नाम अंकित कराने के लिए प्रेरित करें। यह विधित है कि 1 नवम्बर से 30 नवम्बर 2021 तक सक्षिप्त पुनरीक्षण 2022 के लिए मतदाता सूची कार्यक्रम चल रहा है।