वोट के बाद दिखाया ‘पंजा’, कमलनाथ बोले ..तो क्या कमल दिखाता

mp-election-after-vote-kamal-nath-showed-palm-

छिंदवाड़ा। मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए बुधवार को सुबह से ही मतदान के लिए भारी उत्साह देखने को मिला| वहीं सियासी दिग्गज भी अलग अलग रंग में नजर आये| कोई रथ से पहुंचा तो कोई पूजा पाठ कर वोट देने पहुंचा| कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने भी हनुमान मंदिर में पूजा अर्चना की और फिर अपने संसदीय क्षेत्र छिंदवाड़ा में वोट डाला। लेकिन इस दौरान वो विवादों में भी आ गए| 

दरअसल, दरअसल कमलनाथ वोट डालने के बाद जब बाहर निकले तो उन्होंने हाथ का पंजा दिखाया। इसे भाजपा ने आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की थी। जिस पर प्रदेश के मुख्य चुनाव आयुक्त ने जांच की बात कही है|  इस मामले में कमलनाथ का कहना है कि मैं अपना वोट डाल चुका हूं। मैं जब बूथ से बाहर निकल रहा था तो लोगों ने मुझसे पूछा। मैंने लोगों के लिए मताधिकार का इस्तेमाल किया है। ऐसे में मैं हाथ का पंजा नहीं दिखाता, तो क्या कमल दिखाता। बता दें कि चुनाव चिह्न दिखाना जन प्रतिनिधित्व कानून की धारा 126 का उल्लंघन माना जाता है। बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा, इस मामले में एफआईआर होनी चाहिए। चुनाव आयोग को इसे संज्ञान में लेना चाहिए क्योंकि यह करप्ट प्रैक्टिस है। लोकतंत्र में ऐसा नहीं होना चाहिए।

मोदी भी कर चुके हैं ऐसा 

लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी ऐसे विवादों में फंस चुके हियँ| गांधीनगर में वोट डालने के बाद उन्होंने कमल निशान दिखाया था। इसके बाद चुनाव आयोग ने धारा 126 (1) (बी) के उल्लंघन के लिए गुजरात के मुख्य सचिव और डीजीपी को मोदी पर कार्रवाई करने का आदेश दिया था। यही नहीं, इस पर कांग्रेस ने वडोदरा व वाराणसी में नरेंद्र मोदी की उम्मीदवारी को खारिज करने की मांग की थी।