MP Weather: एक साथ कई सिस्टम एक्टिव, 34 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, बिजली गिरने की भी चेतावनी, जानें अपडेट

आज शनिवार 23 जुलाई 2022 को 6 संभागों और 10 जिलों में भारी से अति भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। वही 7 संभागों में बिजली गिरने और चमकने का भी येलो अलर्ट जारी किया गया है।

cg weather alert

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में लगातार हो रही बारिश के बाद नर्मदा और चंबल नदी उफान पर आ गई है, वही ओंकारेश्वर, तवा और भोपाल में भदभदा के गेट खोल दिए गए है। मौसम विभाग ने भारी बारिश की चेतावनी जारी करते हुए आज ऑरेंज और येलो अलर्ट एक साथ जारी किया है। एमपी मौसम विभाग (MP Weather Department) ने आज शनिवार 23 जुलाई 2022 को 6 संभागों और 10 जिलों में भारी से अति भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। वही 7 संभागों में बिजली गिरने और चमकने का भी येलो अलर्ट जारी किया गया है।

यह भी पढ़े.. सरकारी कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज! रिटायरमेंट एज और पेंशन में हो सकती है वृद्धि, जानें सरकार का प्लान

एमपी मौसम विभाग (MP Weather alert ) के अनुसार, आज शनिवार 23 जुलाई को 6 संभागों समेत 10 जिलों में गरज चमक के साथ भारी बारिश को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। इसमें भोपाल, ग्वालियर, चंबल, शहडोल,सागर, नर्मदापुरम संभाग के साथ जबलपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी,मंडला, बालाघाट, देवास, शाजापुर, आगर, नीमच और मंदसौर में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। वही रीवा, सागर, भोपाल, जबलपुर नर्मदापुरम, ग्वालियर, चंबल संभाग में बिजली गिरने और चमकने के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है।

यह भी पढ़े.. CG Weather: मानसून द्रोणिका का असर, 18 जिलों में गरज चमक के साथ भारी बारिश की चेतावनी, रेड-ऑरेंज अलर्ट जारी

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Update) के अनुसार, वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ अफगानिस्तान पर हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात के रूप में बना हुआ है। उत्तरी पाकिस्तान पर चक्रवात के रूप में बना पश्चिमी विक्षोभ हिमाचल प्रदेश पर सक्रिय हो गया है। ओडिशा एवं उससे लगे छत्तीसगढ़ के आसपास हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात मौजूद है। मानसून ट्रफ गंगानगर, रोहतक, ग्वालियर, सीधी, अंबिकापुर, बालासोर से बंगाल की खाड़ी तक बना हुआ है। हरियाणा पर भी हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है।

अबतक कहां कितनी हुई बारिश

  • पूर्वी मध्य प्रदेश के 21 जिलों में से रीवा, सतना, सीधी, पन्ना, टीकमगढ़ , डिंडोरी , छतरपुर सहित 9 जिले तो ऐसे हैं जहां सामान्य से 22% से लेकर 61% तक कम बारिश हुई।
  • पश्चिमी मध्य प्रदेश के भोपाल, उज्जैन, इंदौर सहित 27 जिलों में सामान्य से ज्यादा बारिश हो चुकी है।
  • यहां के सिर्फ चार जिले आलीराजपुर, झाबुआ, भिंड और दतिया ही ऐसे हैं जहां सामान्य से 34% तक कम पानी बरसा।

पिछले 24 घंटे का बारिश का रिकॉर्ड

पिछले 24 घंटों के दौरान शनिवार सुबह साढ़े आठ बजे तक नौगांव में 69.8, पचमढ़ी में 65.4, मंडला में 65, नर्मदापुरम में 58.8, बैतूल में 37.5, दतिया में 36.8, सतना में 35.4, भोपाल 35.1, उमरिया में 32.8, रीवा में 18.2, रायसेन में 13, सागर में 10.8, ग्वालियर में नौ, दमोह में आठ, सिवनी में 7.6, खजुराहो में छह, नरसिंहपुर में पांच, मलाजखंड में 4.2, गुना में 4.1, जबलपुर में तीन, सीधी में 2.6, रतलाम में दो, इंदौर में एक, उज्जैन में 0.4 मिलीमीटर वर्षा हुई।

Rainfall DT 23.07.2022
(Past 24 hours)
Nowgaon 69.8
Pachmarhi 65.4
Mandla 65.0
Narmadapuram 58.8
Betul 37.5
Datia 36.8
Bhopal City 35.5
Satna 35.4
Bhopal 35.1
Umaria 32.8
Rewa 18.2
Raisen 13.0
Sagar 10.8
Gwalior 9.0
Damoh 8.0
Seoni 7.6
Khajuraho 6.0
Narsinghpur 5.0
Malanjkhand 4.2
Guna 4.1
Jabalpur 3.0
Sidhi 2.6
Ratlam 2.0
Indore 1.0
Ujjain 0.4

अबतक की जिलेवार अपडेट

  • भोपाल में शनिवार दोपहर 12 बजे भदभदा डेम का एक गेट खोल दिया गया है। भदभदा के गेट जुलाई महीने में पांच साल बाद फिर से खोले गए हैं। इससे पहले 12 जुलाई 2016 को भदाभदा के गेट खोले गए थे। भदभदा डेम की क्षमता 1666.80 फीट है। इसमें कुल 11 गेट हैं।
  • खंडवा में सुबह 9.30 बजे ओंकारेश्वर डैम के 6 गेट खोल दिए गए हैं।
  • नर्मदापुरम में भी तवा डैम के 5 गेट को 7 फीट खोलकर पानी छोड़ा जा रहा है। रात में 7 गेट खुले थे। सुबह दो गेट बंद कर दिए गए। तवा डैम के गेट खुलने के बाद से इंदिरा सागर डैम का जलस्तर भी बढ़ रहा है।
  • नर्मदा, ताप्ती और शिप्रा के बाद अब चंबल नदी का जलस्तर बढा।चंबल किनारे बसे गांवों में बाढ़ का खतरा बढ़ सकता है।
  • राजगढ़ जिले के खिलचीपुर में 2 मंजिला मकान गिरा और मलबे में निर्दलीय पार्षद निशा की ननद सलीमन बी की दबने से मौत हो गई।
  • कोटा बैराज से छोड़े गए 12 हजार क्यूसेक पानी और बारिश के असर से मुरैना में राजघाट पर चंबल का जलस्तर 4 मीटर तक बढ़ा।
  • श्योपुर में पार्वती और अमराल नदी उफान पर है। श्योपुर से कोटा हाईवे बंद ।
MP Weather: एक साथ कई सिस्टम एक्टिव, 34 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, बिजली गिरने की भी चेतावनी, जानें अपडेट