MP News: 3 अधिकारी निलंबित, 81 कर्मचारियों को नोटिस, 9 का वेतन काटा, 2 की सेवा समाप्त

5 से अधिक नॉन अटेंड सीएम हेल्पलाइन रहने पर संबंधित अधिकारियों की वेतन रोकने के निर्देश दिए।

mp news निलंबित

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में लापरवाही पर मुरैना में नायब तहसीलदार, सिवनी में कृषि विकास अधिकारी  और दमोह में जनशिक्षक को निलंबित (Suspended) कर दिया गया है। वही बड़वानी 52 BLO, सीहोर  में 2 कर्मचारियों और धार में 27 प्राचार्यो को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।इसके अलावा सागर में CMHO समेत 8 अधिकारियों का वेतन काटा और सीहोर में 1 कर्मचारी का वेतन रोका गया है।इधर, शाजापर और छतरपुर में 2 पंचायत प्रधान की सेवाएं समाप्त कर दी गई है।

यह भी पढ़े.. खुशखबरी: मध्य प्रदेश के 16 लाख किसानों को जल्द मिलेगा लाभ, कलेक्टरों को निर्देश जारी

मुरैना में अपने पदीय कर्तव्यों का निर्वहन नहीं करने के आरोप में नायब तहसीलदार प्रदीप केन को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। यह कार्रवाही कलेक्टर मुरैना के प्रस्ताव पर चंबल संभाग के कमिश्नर आशीष सक्सेना ने की है। निलंबन अवधि में नायब तहसीलदार का मुख्यालय कार्यालय कलेक्टर मुरैना(Morena Collector Office) रहेगा, निलंबन अवधि में इन्हें मूलभूत नियम 53 के तहत निर्वाह भत्ता प्राप्त करने की पात्रता रहेगी।

सिवनी में उपसंचालक कृषि मोरिस नाथ ने CM Helpline एल-1 की शिकायतों को अटेन्ड नहीं करने के कारण BS गौड, कृषि विकास अधिकारी विकासखण्ड घंसौर को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर इनका मुख्यालय कार्यालय उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास सिवनी किया गया है। उप संचालक कृषि द्वारा अन्य अधिकारियों और कर्मचारियों को भी समय पर सी.एम.हेल्पलाईन की शिकायतों को अटेन्ड करने एवं शिकायतों का त्वरित निराकरण करने के निर्देश दिये है।

यह भी पढ़े.. MP Transfer: मप्र में नगर पालिका CMO के थोकबंद तबादले, यहां देखें लिस्ट

दमोह में जनशिक्षा केन्द्र मड़ियादो द्वारा अधीनस्थ शालाओं की सतत मॉनीटरिंग नहीं किये जाने से वहां पर राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे 2021 की तैयारियों के लिए आवश्यक गतिविधियं शून्य परिलक्षित हुई जिस पर जिला शिक्षा केन्द्र से संबंधित जनशिक्षक प्रकाश नारायण पांडे को नोटिस जारी किया गया है और  प्रस्तुत जबाव से संतुष्ट ना होने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।जारी आदेशानुसार निलंबन अवधि में संबंधित का मुख्यालय कार्यालय विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी बटियागढ़ होगा एवं नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।

सीहोर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी (CEO) हर्ष सिंह ने सीएम हेल्पलाइन शिकायतों के निराकरण में घोर लापरवाही बरतने पर कलस्टर प्रभारी रमा वासनिक को कारण बताओं नोटिस जारी किया है। इसी प्रकार स्ट्रीट वेंडर योजना में धीमी प्रगति के चलते कल्पना खापर्डे को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया है। एक अन्य कलस्टर प्रभारी बीएल पंसोरिया को अपने कलस्टर में भ्रमण नही करने और शासकीय कार्य में लापरवाही बरतने पर वेतन रोकने के निर्देश दिए है।

2 पंचायत प्रधान पद से पृथक

शाजापुर कलेक्टर (Shajapur Collector) एवं विहित प्राधिकारी दिनेश जैन द्वारा जनपद पंचायत कालापीपल ग्राम पंचायत आगखेड़ी प्रधान सुनीताबाई पति सुरेश कुमार को पदेन कर्तव्यों एवं दायित्वों का निवर्हन नहीं करने के कारण तत्काल प्रभाव से ग्राम पंचायत प्रधान के पद से पृथक कर दिया गया है। सरपंच पद का कार्यकाल पूर्ण होने से वर्तमान में सरपंच को ग्राम पंचायत की प्रशासकीय समिति का प्रधान नियुक्त किया गया है, एवं पंचायत राज संचालनालय भोपाल के परिपत्र द्वारा कलेक्टर को विहित प्राधिकारी बनाया गया है।

यह भी पढ़े.. MP के बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत, अधिभार राशि माफ, अबतक 4652 लाभान्वित

छतरपुर कलेक्टर (Chhatarpur Collector) शीलेन्द्र सिंह ने गौरिहार जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत सिसोलर के प्रधान को शासकीय कार्य में बाधा उत्पन्न तथा पदीय कर्तव्य और दायित्व का निर्वहन नहीं करने से प्रशासकीय पद से पृथक करने के आदेश जारी किये है। अधिकृत जानकारी ने बताया गया कि सिसोलर पंचायत के सोमप्रकाश श्रीवास प्रधान द्वारा शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाई गई जिसके चलते उसके विरूद्ध प्रदत्त शक्तियों को प्रयोग में लाते हुए पद से पृथक किये जाने की कार्यवाही की गई है।

CMHO समेत 8 अधिकारियों का वेतन काटा, शो-कॉज नोटिस जारी

CM Helpline को नॉन अटेंड करने एवं अन्य कार्यों में लगातार लापरवाही पूर्ण कार्य करने पर सागर कलेक्टर दीपक आर्य ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बौद्ध सहित अन्य अधिकारियों को शो-कॉज नोटिस देते हुए तत्काल प्रभाव से वेतन रोकने के निर्देश दिए।कलेक्टर आर्य ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बौद्ध द्वारा लगातार कार्य के प्रति लापरवाही एवं अनुपस्थित रहने पर नवंबर माह का वेतन रोकने की तत्काल निर्देश कोषालय अधिकारी को दिए।

यह भी पढ़े.. मध्य प्रदेश के कर्मचारियों-अधिकारियों को बड़ी राहत, जल्द मिलेगी ये सुविधा

इसके साथ ही शो-काज नोटिस जारी कर निर्देश दिए कि 2 दिवस में स्पष्ट करें की सीएम हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों को क्यों अटेंड नहीं किया गया। साथ ही अनुपस्थिति का कारण भी स्पष्ट करें।कलेक्टर आर्य ने अन्य अधिकारियों जिसमें आदिम जाति कल्याण विभाग के उपायुक्त आरके श्रोती, विकासखंड मेडिकल अधिकारी सूर्यश सिंघई ,ऊर्जा विभाग (Department of Energy) के रवि सोलंकी को शो-कॉज नोटिस देते हुए वेतन रोकने के निर्देश दिए। वही 5 से अधिक नॉन अटेंड सीएम हेल्पलाइन रहने पर संबंधित अधिकारियों की वेतन रोकने के निर्देश दिए।

52 बीएलओ को दिये शोकाज नोटिस

बड़वानी एसडीएम (Barwani SDM) पानसेमल अंशु जावला ने विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र पानसेमल के 52 BLO को नवीन मतदाताओं के नाम, मतदाता सूची में जोड़ने के लिए आवेदन प्राप्त करने के कार्य में लापरवाही दिखाने पर शोकॉज नोटिस जारी किया है। नोटिस में उल्लेखित किया गया है कि मतदान केन्द्रवार कम से कम 25 आवेदनों का लक्ष्य पूर्ण करना था, किन्तु उनके द्वारा आज दिनांक एक भी आवेदन प्राप्त नहीं किये गये है, जो निर्वाचन आयोग के निर्देशो का घौर उल्लंघन है। अन्यथा की स्थिति में कठौर कार्यवाही की चेतावनी दी गई है।

यह भी पढ़े..मप्र पंचायत चुनाव: कलेक्टरों से 30 नवंबर तक मांगी जानकारी, BLO को भी निर्देश जारी

इसमें दिलीप पटेल, अगनसिंह भौसले, राजेन्द्र जाधव, जगन्नाथ निझरे, राजू बर्डे, भिकारीलाल वर्मा, राजेश भौसले, गंगाराम सोलंकी, रतन सैनानी, ठानसिंह भण्डारी, तुमड़िया भौसले, बिल्लौरसिंह चौहान एवं छोगालाल रावत, राजेन्द्र वारूड़े, किशन सोलंकी, लालसिंह बर्डे, जयसिंह रावत, शांतिलाल सैनानी, अर्जुन निगवाल एवं मंशाराम नरगावे, हरिराम जाधव, जगदीश सैनानी, राधेश्याम सोलंकी एवं लीलाधर चौहान, दितला गोयल, शांतिलाल जाधव एवं शोभाराम ब्राहम्णे, बीएलओ राजेश रावत, राधेश्याम कोचक एवं रोहीदास आर्य, जगदीश बर्डे एवं शिवलाल बर्डे, सुभाष चौहान, शिवराम तरोले, बिल्लेश्वर बघेल, भागीरथ अहिरे, मोहम्मद सलीम शेख, मौजालीखुर्द के बीएलओ उमेश जमरे, प्रेमसिंह पटेल एवं सखाराम सस्त्या, काशीराम जमरे, बापूनाथ पंवार, सुनिल सेन, स्वाईसिंह निराला, कहारिया नरगावे, वाहरिया डावर, जीकारिया रावत एवं एलाश डावर, कमलसिंह बघेल, सुन्दरलाल पाटील, जला ब्राहम्णे एवं मुकेश अस्के के नाम सम्मिलित है।

27 प्राचार्यो को कारण बताओ नोटिस

धार जिला शिक्षा अधिकारी ने जिले के शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय (School) के प्राचार्यो को समेकित छात्रवृत्ति योजना अंतर्गत वर्ष 2018-19 से 2020-21 की स्वीकृति लंबित रखने वाले प्राचार्यो को कारण बताओ सूचना पत्र जारी करते हुए 29 नवम्बर तक स्वीकृत करने के निर्देश दिए है। उन्होंने प्राचार्यो को बैठकों में भी निर्देशित किया गया था। इन्हें समेकित छात्रवृत्ति स्वीकृति के लिए अंतिम अवसर दिया जा रहा है। प्राचार्यो द्वारा उक्त स्वीकृति दी गई समय सीमा में नहीं करने की स्थिति में विकासखण्ड शिक्षा अधिकारियों को संबंधित प्राचार्यो के वेतन से कटौती कर छात्रवृत्ति भुगतान के निर्देश भी दिए गए है।

जिन प्राचार्यो को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किए गए है, इनमें शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय घाटाबिल्लौद, नालछा, तिरला, केसूर, दिग्ठान, सागौर, बगडी, आहू, तलवाडा (नालछा), बोधवाडा, कन्या तिरला, तीसगांव, हाईस्कूल नालछा, हाइ्रस्कूल पर्वतपुरा, शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय भोजकन्या धार, शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय पीथमपुर, नागदा, बिडवाल, कोद, बखतगढ, भैसोला, शासकीय उत्कृष्ट उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय बदनावर, कन्या उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय बदनावर तथा हाईस्कूल खाचरोदा, संदला एवं मूलथान के प्राचार्य शामिल है।