भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एक बार फिर कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ट्रोलर्स (trollers) के निशाने पर आ गए है। इस बार मामला राहुल गांधी के महान धावक मिल्खा सिंह (milkha singh) के निधन पर किये गए Tweet का है। हालांकि यह कहना मुश्किल है कि राहुल गलत है या यूजर्स (users)।

18 जून की देर रात देश के महान एथलीट मिल्‍खा सिंह का कोरोना (corona) से निधन हो गया। पूरे देश ने उनके निधन पर ट्विटर के माध्‍यम से उन्‍हें अपनी श्रृद्धांजलि अर्पित की। वही कांग्रेस नेता राहुल गांधी (congress leader)  ने भी ट्वीट कर महान धावक को श्रद्धांजलि दी लेकिन उनके इस ट्वीट के बाद वह ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए। दरअसल इस ट्वीट में उन्होंने ऐसे शब्द का प्रयोग किया की वे बुरी तरह ट्रोल हो गए।

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा ‘India remembers her #flyingSikh’। भारत के लिए her का प्रयोग करने के लिए लोगों ने उन्हें बुरी तरह घेर लिया और अंग्रेजी का पाठ पढ़ाने लगे। लोगों ने ट्वीट के जवाब में लिखा की उन्‍हें ‘India remembers his #flyingSikh’ लिखना चाहिए था मगर उन्‍होंने his के स्‍थान पर her लिखकर इंडिया का जेंडर ही बिगाड़ दिया।

Read More: Sex Racket: ऑनलाइन होती थी ग्राहकों की बुकिंग, आपत्तिजनक हालत में कई गिरफ्तार, गैंग का पर्दाफाश

राहुल गांधी ने जो ट्वीट किया वो कुछ इस तरह है।

Shri Milkha Singh ji was not just a sports star but a source of inspiration for millions of Indians for his dedication and resilience.

My condolences to his family and friends.

India remembers her #FlyingSikh pic.twitter.com/dE70KmiQJz

— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) June 19, 2021

अब इस ट्वीट पर बहस छिड़ी है कि इंडिया के लिए His लिखा जाए या Her .. कई लोगों ने कहा कि यहां Its का प्रयोग होना चाहिए तो कुछ ने कहा कि लगता है राहुल शशि थरूर से अंग्रेजी सीख कर आए हैं।

जानकारों की माने तो , “दूसरे देशों में ऐसे संबोधन में it’s का इस्तेमाल किया जाता है, पर भारत के संदर्भ में ऐसा कोई नहीं करता। जबकि इट्स ही सही है। लेकिन अगर कोई her शब्द का इस्तेमाल करता भी तो है इसे भारत की मान्यताओं के हिसाब से लिया जाता है, जहां देश का स्त्रीकरण किया गया है, जो कि ग्रामर से इतर अलग ही बहस का विषय है।

फिलहाल महान धावक के निधन से पूरे देश ही नही बल्कि दुनिया के खेल जगत ने अपनी संवेदनाएं प्रकट की है।18 जून की देर रात लीजेंड धावक मिल्खा सिंह ने आख़री सांस ली वही उनके निधन से पांच दिन पहले की उनकी निर्मल मिल्खा कौर का भी कोरोना पॉजिटिव होने के बाद इलाज के दौरान निधन हो गया था।