MP में 21 अप्रैल को होगा योजना का शुभारंभ, हितग्राहियों को मिलेंगे 55 हजार रूपए, CM के अधिकारियों को निर्देश

वही योजना में प्रति हितग्राही बेटी को 55 हजार रूपए देने का प्रावधान किया गया है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) में सीएम शिवराज (CM Shivraj) 21 अप्रैल को सामूहिक विवाह कार्यक्रम (mass marriage ceremony) से मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना (Chief Minister Girl Marriage Scheme) का शुभारंभ करेंगे। बता दे कि यह योजना नसरुल्लागंज से शुरू की जाएगी। इसमें से सामूहिक विवाह कार्यक्रम में शामिल होंगे। वही योजना में प्रति हितग्राही बेटी को 55 हजार रूपए देने का प्रावधान किया गया है।

प्रदेश में कोरोना काल के दौरान इस योजना को स्थगित कर दिया गया था। हालांकि एक बार फिर से अब संशोधित स्वरूप के साथ योजना को शुरू किया जा रहा है। इस समारोह के तहत जिले के 500 युवक-युवतियां शादी के बंधन में बनेंगे। इस योजना के तहत सीएम शिवराज जी द्वारा अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं वहीं योजना में हितग्राही को 55 हजार रूपए उपलब्ध कराए जाएंगे जिसमें 38 हजार रूपए की सामग्री सहित 11 हजार रूपए का चेक सहित 6000 आयोजन व्यय में किए जायेंगे।

Read More : CM के बड़े निर्देश, पेंशनर्स को इस दिन खाते में भुगतान होगी पेंशन की राशि, मिलेगा लाभ

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना 21 अप्रैल से पुन: प्रारंभ हो रही है। योजना का प्रथम आयोजन सीहोर के नसरूल्लागंज में होगा। कार्यक्रम इस प्रकार से हो, जो सम्पूर्ण प्रदेश के लिए आदर्श बने। आयोजन के लिए नगर में पर्याप्त विद्युत साज-सज्जा भी की जाए। कार्यक्रम में शासकीय व्यवस्था के साथ जन-भागीदारी को भी प्रोत्साहित किया जाएँ।

विवाह कार्यक्रम में शासकीय अधिकारी, जन-प्रतिनिधि और समाज के व्यक्ति भावनात्मक रूप से जुड़ें। सीएम शिवराज ने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में प्रदान किए जाने वाले चेक बेटियों के नाम पर ही दिए जाएँ। मुख्यमंत्री श्री चौहान 21 अप्रैल को सीहोर जिले के नसरूल्लागंज विवाह आयोजन की तैयारियों की निवास कार्यालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा कर रहे थे।

बैठक में जानकारी दी गई कि नसरूल्लागंज में होने वाले सामूहिक विवाह कार्यक्रम के लिए अब तक 461 जोड़ों का पंजीयन हो चुका है। सामाजिक संगठनों के साथ कर्मचारी संगठन भी आयोजन में सक्रिय रूप से भागीदारी कर रहे हैं। सीएम शिवराज ने योजना में भेंट स्वरूप दी जाने वाली सामग्री, वर-वधु के परिवारों को रूकवाने और बारात आदि की व्यवस्थाओं के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की।