होशंगाबाद कलेक्टर ने विभाग को भेजा यह प्रस्ताव, केन्द्र को भेजेगी शिवराज सरकार

इस संबंध में होशंगाबाद कलेक्टर (Hoshangabad Collector) ने प्रस्ताव बनाकर राजस्व विभाग को भेज दिया है, जो जल्द ही परीक्षण के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेजा जाएगा।

shivraj sarkar

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। बीते दिनों मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan)  ने नर्मदा जयंती के अवसर पर ऐलान किया था कि अब से होशंगाबाद जिले (Hoshangabad district) का नाम नर्मदापुरम (Narmadapuram) होगा। सीएम के इस ऐलान के बाद अब इस संबंध में होशंगाबाद कलेक्टर (Hoshangabad Collector) ने प्रस्ताव बनाकर राजस्व विभाग को भेज दिया है, जो जल्द ही परीक्षण के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेजा जाएगा। केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) से इसकी अनुमति मिलते ही शिवराज सरकार (Shivraj Government) अधिसूचना जारी करेगी।

यह भी पढ़े.. MP News : इन अधिकारी-कर्मचारियों को लेकर शिवराज सरकार का बड़ा फैसला

दरअसल, सालों पहले मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के होशंगाबाद का नाम नदी किनारे बसा होने के कारण नर्मदापुरम् ही था लेकिन बाद में मालवा के पहले इस्लामिक शासक माने जाने वाले होशंग शाह ने इसका नाम नर्मदापुरम् से बदलकर होशंगाबाद कर दिया गया था।जिसे स्थानीय लोगों द्वारा बार बार मांग उठाए जाने के बाद 19 फरवरी को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan)  ने इसका नाम बदलकर दोबारा नर्मदापुरम करने का ऐलान कर दिया।

यह भी पढे.. अब होशंगाबाद का नाम होगा नर्मदापुरम, सीएम शिवराज का ऐलान

इस संबंध में अब होशंगाबाद कलेक्टर ने प्रस्ताव बनाकर राजस्व विभाग को भेज दिया है, जो जल्द ही परीक्षण के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय (Union Ministry of Home Affairs) को भेजा जाएगा ।इतना ही नहीं जिले का नाम बदलने के साथ-साथ रेलवे स्टेशन और डाकघर (Hoshangabad Railway Station and Post Office) का नाम भी बदलना होगा। केंद्र से अनुमति मिलते ही आगे की प्रक्रिया शुरु हो जाएगी। वहां से अनुमति मिलने पर ही नाम परिवर्तन की अधिसूचना सरकार जारी कर सकती है।केंद्रीय गृह मंत्रालय का सर्कुलर भी यही कहता है कि उनकी अनुमति लिए बिना नाम परिवर्तन नहीं किया जा सकता।