Strategy-created-in-the-BJP-for-the-surrounded-of-Kamal-Nath

भोपाल। लोकसभा चुनाव के दौरान मप्र भाजपा की ओर से प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर तीखे हमले नहीं होने से पार्टी का आलाकमान खफा है। सरकार पर हमले तेज करने के लिए प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे ने आज प्रदेश भाजपा कार्यालय में प्रदेश प्रवक्ता एवं अन्य पदाधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कर्जमाफी, हाल ही में उजागर सरकार का भ्रष्टाचार, तबादला उद्योग पर सरकार को घेरने को कहा। 

लोकसभा चुनाव के दौरान लंबे समय बाद भोपाल आए विनय सहस्त्रबुद्धे ने पार्टी पदाधिकारियों से कहा कि मप्र में कांग्रेस सरकार को 4 महीने होने जा रहे हैं। सरकार ने जिस तरह से भ्रष्टाचार किया है, उसे जनता के बीच ले जाना है। उन्होंने कहा कि किसानों का कर्ज माफ नहीं हुआ है। उपार्जन केंद्रों पर फसल की तुलाई नहीं हो रही है। इन मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाना है। उन्होंने प्रवक्ता से कहा कि वे सरकार के खिलाफ पूरी ताकत के साथ मुद्दे उठाए। साथ ही उन्होंने भोपाल संसदीय क्षेत्र से चुनावी तैयारियों को टटोला। 

सभाओं में खुलासा कर सकते हैं मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जल्द ही प्रदेश में चुनावी सभाएं करने वाले हैं। ऐसी संभावना है कि मोदी हाल ही में आईटी छापों से जुडा बड़ा खुलासा कर सकते हैं। जिसे भाजपा चुनाव में भुनाने की कोशिश करेगी।