1 अप्रैल से बदल जाएंगे यह सभी नियम, इन बैंकों के चेकबुक-पासबुक हो जाएंगे बेकार

इंडियन पोस्ट पेमेंट बैंक (Indian Post Payment Bank) में 1 अप्रैल से पैसा जमा करने या निकालने पर आधारित पेमेंट सिस्टम पर चार्ज देना होगा।

budget

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। देशभर में 1 अप्रैल से नए वित्तीय वर्ष (New financial year) की शुरुआत के साथ ही बैंक (bank) और पीएफ (PF) से जुड़े कई नियम बदल जाएंगे। इसके साथ ही कई बैंकों के चेक बुक (Cheque bok) और पासबुक (passbook) भी पूरी तरह से बेकार हो जाएंगे। वही नए वित्तीय वर्ष से टीडीएस (TDS) के लिए आयकर नियम भी बदल जाएंगे।

सरकार ने कई बैंकों का अन्य बैंक के साथ मर्जर कर दिया है जिसके बाद देना बैंक (DENA Bank), आंध्र बैंक (Andhra bank), कॉर्पोरेशन ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और इलाहाबाद बैंक (allahabad bank) के पासबुक (Passbook) और चेकबुक पूरी तरह से बेकार हो जाएंगे। बता दें कि उपरोक्त सभी बैंकों को किसी न किसी बैंक के साथ मर्ज (merge) कर दिया गया है।

बुजुर्ग को राहत

इसके साथ ही इस साल के बजट अनुसार 75 साल से ज्यादा के आयु बुजुर्ग को पेंशन और जमा होने वाली ब्याज आय पर निर्भर किया गया है। जिसके बाद उन्हें इनकम रिटर्न फाइल करने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

एम्पलाई प्रोविडेंट फंड (EPF) में निवेश टैक्स फ्री

बजट 2021-22 के मुताबिक प्रोविडेंट फंड से मिलने वाले ब्याज पर टैक्स की घोषणा की गई थी। जिसके बाद अब ढाई लाख तक एम्पलाई प्रोविडेंट फंड (EPF) में निवेश टैक्स फ्री रहेगा। वही उससे ज्यादा निवेश करने के बाद एडिशनल अमाउंट पर ब्याज से होने वाली कमाई पर टैक्स देना होगा।

Read More: Dhar News: महिला को बस में होने लगी प्रसव पीड़ा, ड्राइवर ने पेश की मानवता की मिसाल

सैलरी में नया कोड लागू करने की तैयारी

इसके अलावा 1 अप्रैल से सैलरी में नया कोड लागू करने की तैयारी की गई है। माना जा रहा है कि सैलरी के नियम में बदलाव होंगे। वही इन हैंड मिलने वाली सैलरी का वेतन सैलरी का 50 फ़ीसदी हिस्सा होगा। जिसके बाद एक तारीख से सैलरी स्ट्रक्चर में बदलाव किया जाएगा।

पुरानी चेक बुक (cheque book) 31 मार्च के बाद बेकार

वहीं अन्य बैंक में मर्जर के साथ ही पंजाब नेशनल बैंक ने कहा था कि ओरिएंटल बैंक (oriental bank), बैंक ऑफ कॉमर्स, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (united bank of india) की पुरानी चेक बुक (cheque book) 31 मार्च के बाद पूरी तरह से बेकार हो जाएगी। वही इन बैंकधारियों को बैंक से नया कोड और चेक बुक प्राप्त करना होगा। जिससे आईएफएससी (IFSC),  एमआईसीआर (MICR) कोड पूरी तरह से बदल जाएंगे।

Read More: MP Board: 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए जारी हुई नई प्रश्न बैंक, व्हाट्सएप पर होगी उपलब्ध

टीडीएस (TDS) में बढ़ोतरी

इसके अलावा 1 अप्रैल से नॉन सैलरी क्लास (non salary class) के टीडीएस (TDS) में बढ़ोतरी की गई है। जहां फ्रीलांसर, टेक्निकल स्पोर्ट्स को कमाई में से 10% टीडीएस भरना होगा।

एईपीएस (AEPS) पर लगेगा चार्ज

इसके अलावा इंडियन पोस्ट पेमेंट बैंक (Indian Post Payment Bank) में 1 अप्रैल से पैसा जमा करने या निकालने पर आधारित पेमेंट सिस्टम पर चार्ज देना होगा। हालांकि पोस्ट ऑफिस द्वारा फ्री ट्रांजैक्शन लिमिट (free transaction limit) के खत्म होने के बाद ही एईपीएस (AEPS) पर चार्ज देना होगा।

इन चीजों के बढ़ेंगे दाम

वहीं नए बजट के मुताबिक जनता पर महंगाई की मार पड़ेगी। जहां रोजमर्रा के इस्तेमाल करने वाली कई चीजें के दामों में वृद्धि हो जाएगी। बाइक एसी बिजली और कार सहित हवाई यात्रा पूरी तरह से महंगी हो जाएगी। इतना ही नहीं टीवी की कीमतों में भारी वृद्धि देखने को मिलेगी। इसके अलावा एयर कंडीशन और फ्रिज की कीमत में भी उछाल आएगा। साथ ही दूध के दाम में बढ़ोतरी होगी। वही बिजली के बिलों में भी बढ़ोतरी देखी जा सकती है।