UK ने आखिरकार Covishield वैक्सीन को दी मान्यता, भारत के लिए अब भी फंसा है ये पेंच

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। वैक्सीन पॉलिसी (Vaccine Poliocy) को लेकर आखिरकार UK ने बड़ा बदलाव करते हुए भारत में बनी कोविशील्ड (Covishield) को स्वीकृत वैक्सीन मान लिया है। ब्रिटेन ने अपने यात्रा नियमों में बदलाव करते हुए ‘कोविशील्ड’ को स्वीकृति दे दी है। इसे लेकर नई ट्रैवल गाइडलाइंस जारी की गई है। हालांकि इस नई गाइडलाइन के मुताबिक अब भी अगर किसी भारतीय ने कोविशील्ड के दोनो डोज लिए है और वो यूके जाता है तो उसे क्वारंटाइन रहना होगा।

MP: उपचुनाव से पहले प्रदेशवासियों को मिली सौगातें, CM Shivraj ने अंतरित की 299 करोड़ की राशि

अरसे से अपनी यात्रा नियमों को लेकर आलोचना का शिकार रहे ब्रिटेन ने बुधवार को नई गाइडलाइन जारी की। इसके तहत इसके तहत ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के कोरोना वायरस रोधी टीके कोविशील्ड को को मान्यता दे दी गई है। लेकिन नई ट्रैवल गाइ़लाइन में बिना क्वारंटीन के यात्रा करने वाली सूची में भारत का नाम अब भी नहीं है। जिन लोगों ने भारत (India) में कोविशिल्ड वैक्सीन के दोनों डोज लगवाए हैं उनको कोई नई छूट नहीं मिलेगी और यूके जाने की स्थिति में उन्हें वहां 10 दिन क्वारंटाइन रहना होगा, साथ ही तीन बार कोविड टेस्ट भी कराना होगा। ऐसे में फिलहाल भारतीय नागरिकों को इससे कोई राहत नहीं मिलने वाली नहीं है।

UK सरकार की संशोधित गाइडलाइंस में AstraZeneca Covishield, AstraZeneca Vaxzevria and Modern Takeda को मंजूरी दी गई है। ये वैक्सीन ऑस्ट्रेलिया, एंटीगुआ और बारबुडा, बारबाडोस, बहरीन, जापान, कुवैत, मलेशिया, न्यूजीलैंड, ब्रुनेई, कनाडा, डोमिनिका, इज़राइल, कतर, सऊदी अरब, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया या ताइवान के स्वास्थ्य निकाय से लगी होनी चाहिए। इस सूची में भारत का नाम नहीं है इसलिए अभी भारतीय नागरिकों के लिए भ्रम की स्थिति बरकरार है और उन्हें अब भी 10 दिन क्वारंटाइन नियमों का पालन करना होगा। वहां की यात्रा करने वाले भारतीय यात्री का कम से कम 14 दिन पहले पूर्ण टीकाकरण होना आवश्यक है। यूके में ये नए नियम 4 अक्टूबर सुबह 4 बजे से लागू होंगे।