ये क्या! सिंधिया गुट के नेता कमलनाथ की बैठक से नदारद

भोपाल. मध्यप्रदेश में सियासी ड्रामा थमने का नाम नहीं ले रहा। सोमवार को रातभर चली सियासी उथल पुथल के बीच विधायकों के बन्धक होने की खबर सामने आई थी। इसके बाद हॉर्स ट्रेडिंग की सियासी हलचल को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सीएम हाउस में चर्चा की। कांग्रेस पार्टी के सिंधिया गुट के मंत्रियों ने बैठक में हुई चर्चा से खुद को दरकिनार रखा।

सिंधिया गुट के नेता नदारद

विधायक खरीद-फरोख्त एवं सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री आवास पर सीएम कमलनाथ ने बैठक की। मुद्दा हॉर्स ट्रेडिंग का था। इस बैठक में सिंधिया समर्थक मंत्री पार्टी बैठक से दरकिनार दिखें। स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट, खाद्य मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर के अलावा राजस्व मंत्री गोविंद सिंह चर्चा में शामिल नहीं हुए। सीएम हाउस की बैठक से पहले सिंधिया समर्थक की बैठक राजस्व मंत्री के निवास स्थान पर हुई। जहां इस संपूर्ण घटनाक्रम को लेकर रणनीतियों पर भी चर्चा हुई।

बैठक पर सवाल

राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के निवास स्थान पर हुई बैठक में स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट के अलावा प्रद्युमन सिंह तोमर पहुंचे थे। जहां राजपूत के निवास स्थान पर सियासी संकट पर गंभीर चर्चा हुई। किन्तु नाथ की बैठक में तीनों मंत्रियों का ना पहुंचना एक बहुत बड़े सवाल खड़े कर रहा है।

खाद्य मंत्री का बयान

सूत्रों के हवाले से पता चला है कि तोमर इस मामले में चुप्पी साधे हुए हैं|सियासी संकट के बीच सरकार से अलग होने के सवाल पर खाद्य मंत्री तोमर ने कहा कि जहां तक बैठक की बात है, अलग से कोई बैठक नहीं हुई है। हम सरकार के साथ है और जनता के लिए कार्य में है।हम सरकार के साथ खड़े हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here