Covid-19: कोरोना को लेकर विशेषज्ञों ने दी चेतावनी, सावधानी जरूरी, इन लक्षणों को ना करें नजरअंदाज 

पिछले 2 सालों से कोरोना महामारी से पूरी दुनिया परेशान है। पिछले कुछ महीने से भारत में कोरोना संक्रमण के मामले कम हुए, लेकिन जून से एक्टिव केस में उतार-चढ़ाव देखे जा रहे हैं।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। Covid-19:- पिछले 2 सालों से कोरोना महामारी से पूरी दुनिया परेशान है। पिछले कुछ महीने से भारत में कोरोना संक्रमण के मामले कम हुए, लेकिन जून से एक्टिव केस में उतार-चढ़ाव देखे जा रहे हैं। 4 महीने बाद 17000 नए कोरोना के मामले सामने आए हैं, जिससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि यह देश में यह चौथी लहर के आसार हैं। विशेषज्ञों ने भी इसे लेकर अलर्ट जारी कर दिया है। देश में कोविड 19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्यों को महामारी प्रबंधन को लेकर विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी है। साथ ही बुजुर्गों और बच्चों के बीच टीकाकरण पर ध्यान केंद्रित करने के निर्देश भी जारी किए गए हैं।

यह भी पढ़े… तहलका मचाने भारत में आ रहा है Oppo Reno 8 Series, इस दिन होगा लॉन्च, तारीख कन्फर्म, जाने

इन लक्षणों को ना करें नज़रअंदाज़

कुछ अध्ययनकर्ताओं के मुताबिक कोरोनावायरस में हुए म्यूटेशन के कारण नए वेरिएंट के मामले सामने आ रहे हैं, साथ ही इनमें नए लक्षण भी देखे जा रहे हैं। कोरोना के लक्षण और इसके खतरों को लेकर वैज्ञानिकों की एक टीम का कहना है कि समय के साथ इस वायरस के व्यवहार और लक्षण में कई बदलाव देखे जा रहे हैं, इसी के साथ पूरे दुनिया में कोरोनावायरस का खतरा अब भी बना हुआ है। खांसी जुखाम और बुखार पहले से ही कोविड 19 के लक्षण हैं, लेकिन वैज्ञानिकों की एक टीम ने जोई कोविड स्टडी ऐप के आधार पर बताया है कि फिलहाल संक्रमण के शिकार हो रहे ज्यादातर लोगों में सिर दर्द की समस्या देखी जा रही है। यह समस्या माध्यम से गंभीर भी हो सकती है। यह शुरुवाती दिनों में भी नजर आती है और 3-5 दिनों तक रहती है, लेकिन यदि यह लंबे समय रहे तो इसे गंभीरता से लेने की जरूरत है।

यह भी पढ़े… OnePlus 10RT जल्द लेगा भारत में एंट्री, कुछ ऐसे हो सकते हैं इसके फीचर्स, जाने

हालांकि कोरोना का खतरा फिलहाल सभी पर है। टीकाकरण कराने के बाद भी लोगों में कोविड 19 पाया गया है। हालांकि सूत्रों के मुताबिक वैक्सीनेशन कराने वाले लोगों में मृत्यु की संभावनाएं कम नजर आ रही हैं। कोरोना के नए लक्षणों में मांसपेशियों में दर्द की दिक्कत भी देखी जा रही है। खासकर की ओमिक्रॉन वेरिएन्ट में मांसपेशियों में दर्द एक सामान्य लक्षण बन चुका है। इस लक्षणों को लेकर सावधानी बरतने की अधिक आवश्यकता है।

मध्यप्रदेश में कोरोना की रफ्तार तेज

वहीं शुक्रवार को मध्यप्रदेश में 7065 जांच में 107 नए पॉजिटिव मामले मिले हैं। बीते दिनों जबलपुर में एक की मौत हुई और अभी प्रदेश में कुल 636 सक्रिय मामले हैं। देश के अलग-अलग हॉस्पिटल में संक्रमित मरीजों की संख्या 30 है जिनमें से 6 ऑक्सीजन के सपोर्ट पर हैं। अब तक 10, 40, 604 लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके है। शुक्रवार को 62 मरीज ठीक हुए । फिलहाल प्रदेश के 16 जिलों में संक्रमण के मामले नजर आए हैं। जिसमें से इंदौर सबसे आगे रहा।  यहां 44 पॉजिटिव मामले मिले हैं। भोपाल में 20, ग्वालियर में 3, जबलपुर में 10, उज्जैन में चार,  बुरहानपुर में तीन, होशंगाबाद में तीन, कटनी में चार, खंडवा में तीन, खरगोन में दो, नरसिंहपुर में चार, सागर में एक, मंडला में एक मामले दर्ज किए हैं।

Disclaimer: इस खबर का उद्देश्य केवल शिक्षित करना है। यह खबर विभिन्न संस्थान के रिपोर्ट पर आधारित है। हम इन बातों का दावा नहीं करते हैं। कृपया विशेषज्ञों की सलाह जरूर लें।