अनाथ ‘लाड़लियों’ को मिलेगा सहारा, इस आईएएस ने शुरू की अनोखी पहल

1962
This-IAS-started-the-unique-initiative-for-orphans-daughters-

जबलपुर|   2008 बैच की IAS और जबलपुर कलेक्टर छवि भारद्वाज ने अनोखी पहल की है| अनाथ बच्चियो के विकास और उनके भविष्य को संवारने की दिशा मे जिला स्तर पर एक अनोखा प्रयास शुरू होने जा रहा है। जिले की कलेक्टर छवि भारद्वाज ने ऐसी अनाथ बच्चियो के लिए जनभागीदारी और निजी संस्थानो के सहयोग से बाल गृह स्थापित करने का फैसला लिया है। इस बाल गृह की स्थापना मे कोई भी सरकारी मदद नही ली जाएगी। इसकी स्थापना और संचालन मे आने वाले खर्च के लिए 50 प्रतिशत हिस्सा जन भागीदारी से और 50 प्रतिशत निजी संस्थानो के सहयोग से लिया जाएगा।

इस काम की मंषा के पीछे कलेक्टर छवि भारद्वाज ने अनाथ बच्चियो को समुचित स्थान और उनके पालन पोषण के लिए बेहद ज़रूरी बताया है। उनका मानना है इस सुविधा से न केवल जबलपुर बल्कि पूर जबलपुर संभाग को मदद मिलेगी। चूंकि कही भी बच्चियो के लावारसि मिलने पर जबलपुर की सरकारी संस्थाओ मे उन्हे रखा जाता है जहाॅ ठीक से देखरेख नही हो पाती है। आने वाले सप्ताह मे बाल गृह की स्थापना के लिए बैठक कर निजी संस्थाओ को इस महत्वपूर्ण योजना से जोड़ा जाएगा। पूरे प्रदेश मे जिले के किसी प्रशासनिक अधिकारी का ये अब तक का सबसे अनोखा प्रयास माना जा रहा है जो समाज मे एक अच्छा सन्देश देगा। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here