इतने तरीकों से खा सकते हैं स्ट्रॉबेरी का फल, सेहत के लिए बहुत है फायदेमंद

Benefits Of Strawberry For Health : स्ट्रॉबेरी का सीजन जोरों पर है। दिखने में खूबसूरत ये फल खाने में भी बहुत स्वादिष्ट होता है। ये बात अलग है कि जब आप स्ट्रॉबेरी खाने बैठें तो एक बार में एक या दो से ज्यादा नहीं खा पाते। जिस तरह की पैकिंग में स्ट्रॉबेरी मार्केट में उपलब्ध होती है, उस पैकिंग के साथ खराब बहुत जल्दी हो जाती है। ऐसे में क्या करें कि ज्यादा से ज्यादा स्ट्रॉबेरी खा सकें। क्योंकि, ये छोटा सा सुर्ख फल सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद है। स्ट्रॉबेरी में बहुत किस्म के एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। जो शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाते हैं। विटामिन सी से लबरेज स्ट्रॉबेरी स्किन और बालों के लिए भी अच्छी होती है। लो ग्लाइसिमिक इंडेक्स वाला ये जूसी फ्रूट दिल की बीमारी में भी फायदेमंद होता है। इसे खाने के लिए या इसके सेवन के लिए आप अलग अलग तरीके अपना सकते हैं।

मिल्क शेक बनाकर

वैसे भी गर्मियों का मौसम आने ही वाला है। जब ठंडे ठंडे शेक्स पीने में मजा भी आता है और टेस्टी भी लगते हैं। स्ट्रॉबेरी का शेक भी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। आप कुछ स्ट्रॉबेरी लेकर दूध में ब्लेंड कर लें। जरूरी लगे तो शक्कर मिला ले वर्ना ऐसे ही खा सकते हैं।

स्ट्रॉबेरी जैम

आप घर पर इंस्टेंट स्ट्रॉबेरी जैम बना सकते हैं। स्ट्रॉबेरी की प्यूरी बनाकर उसे शुगर सिरप में मिक्स कर पका लें। या फल को काट कर ऊपर से शक्कर डाल कर पका लें। दोनों ही तरीकों से ये जैम टेस्टी लगेगा।

स्ट्रॉबेरी चॉकलेट

स्ट्रॉबेरी के शेप की चॉकलेट ही नहीं होती आप स्ट्रॉबेरी की चॉकलेट भी बना सकते हैं। डार्क चॉकलेट में ये फल और भी ज्यादा टेस्टी लगता है। आप बस एक चॉकलेट बार को मेल्ट करें। स्ट्रॉबेरी को उसमें डिप कर कुछ देर फ्रिज में रख दें। जब मन चाहें तब आप ये चॉकलेट स्ट्रॉबेरी खा सकते हैं।

स्ट्रॉबेरी स्मूदी

अगर आपको मीठा पसंद न हो तो बॉइल गाजर के साथ उसे ब्लेंड कर स्मूदी बना लें। इस पर आप चिया सीड्स डाल सकते हैं या दूसरी सीड्स के साथ हल्का सा नमक डालकर आप स्ट्रॉबेरी स्मूदी का मजा ले सकते हैं।

*Disclaimer :- यहाँ दी गई जानकारी अलग अलग जगह से जुटाई गई एक सामान्य जानकारी है। MPBreakingnews इसकी पुष्टि नहीं करता है।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News