Hindu Marriage Act: क्या तलाक हो जाने के बाद फिर से एक दुसरे से शादी कर सकते हैं कपल? जानिए क्या कहता हैं हिंदू मैरिज एक्ट

Hindu Marriage Act: आपने अपने जीवन में कभी न कभी तालक शब्द हुआ ही होगा। वहीं आपने यह भी महसूस किया होगा की कभी-कभी तलाक लेने वाले दंपति के बीच तलाक ले लेने के बाद फिर से रिश्ते सुधरने लगते हैं। तो ऐसे में सवाल उठता है कि क्या वह फिर से शादी के बंधन में बंध सकते हैं?

Rishabh Namdev
Published on -

Hindu Marriage Act: हमारे देश में सबसे बड़ी आबादी हिंदुओं की हैं। ऐसे में हमे हिंदू मैरिज एक्ट के बारे में जानकारी होना जरूरी हैं। दरअसल यह तो काफी लोग जानते हैं की जब किसी कपल के बीच रिश्ते बिगड़ जाते है तो उनके तलाक तक बात पहुंच जाती हैं और कोर्ट में उनका तलाक करा दिया जाता हैं। लेकिन क्या आपके मन में कभी यह सवाल आया हैं कि यदि तलाक हो जाने के बाद किसी कपल में सब ठीक हो जाए और अगर वे फिर से शादी करना चाहे तो क्या यह संभव है? क्या कोर्ट इसकी इजाजत देता है? या क्या हमारा हिंदू मैरिज एक्ट इसकी इजाजत देता हैं।

दरअसल हमारे देश में शादी के रिश्ते को बेहद महत्वपूर्ण और पवित्र माना जाता है। वहीं आपको जानकारी होगी की भारत में साल 1955 में हिंदुओं की शादी को लेकर ही हिंदू मैरिज एक्ट बनाया गया था। जानकारी दे दें की हिंदुओं को सिर्फ एक ही शादी की इजाजत मिली है। यानी अगर कोई व्यक्ति दूसरी शादी करना चाहता हैं तो उसे अपने पहले पार्टनर से तलाक लेना अनिवार्य होता हैं। दरअसल तलाक के बाद वह व्यक्ति दूसरी शादी कर सकता हैं।

Continue Reading

About Author
Rishabh Namdev

Rishabh Namdev

मैंने श्री वैष्णव विद्यापीठ विश्वविद्यालय इंदौर से जनसंचार एवं पत्रकारिता में स्नातक की पढ़ाई पूरी की है। मैं पत्रकारिता में आने वाले समय में अच्छे प्रदर्शन और कार्य अनुभव की आशा कर रहा हूं। मैंने अपने जीवन में काम करते हुए देश के निचले स्तर को गहराई से जाना है। जिसके चलते मैं एक सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार बनने की इच्छा रखता हूं।