अगर आपके स्मार्टफोन की प्रोसेसिंग हो गई है स्लो, तो अपनाएं ये टिप्स

फोन चाहे कितना भी स्मार्ट हो, देखभाल की जरूरत इसे भी होती है। कुछ छोटी-छोटी बातें हैं जिनका ध्यान आपको रखना है।

Amit Sengar
Published on -
smartphones

Smartphone Fast Processing Tips : स्मार्टफोन हमारी जरूरत बन गया है। ऐसे में जब यह धीमा चलता है, हैंग होता है, बैटरी जल्दी ख़त्म होती है या ठीक से काम नहीं करता तो हमें दिक्कत भी होती है। फिर हम रीबूट और डाटा साफ़ करने जैरने कई तरीके अपनाते हैं ताकि यह पहले की तरह काम करे। इम मोबाइल इस्तेमाल तो कर रहे हैं लेकिन इसके रख-रखाव में कई ग़लतियां कर देते हैं, जिसका असर धीरे-धी मोबाइल पर पड़ता है।

कैश को बार-बार साफ़ करना

कैश आपके ऐप्स का अस्थायी डेटा है जो स्मार्टफोन द्वारा संगृहीत किया जाता है ताकि इसे तेजी से एक्सेस किया जा सके। इसे बार-बार साफ न करें क्योंकि यह वैसे भी दोबारा भर जाता है। दूसरी ओर, आपके स्मार्टफोन को उस कैश डेटा को फिर से भरने के लिए अधिक संसाधनों की आवश्यकता होती है। इससे और अधिक बैटरी और डेटा की खपत होगी।

फोन कभी रीस्टार्ट नहीं करते

जिस तरह दिमाग और शरीर को आराम की जरूरत होती है वैसे ही स्मार्टफोन को भी अच्छे से काम करने के लिए रीस्टार्ट करने की जरूरत होती है। वैसे तो फोन एक ऐसा उपकरण है जो कभी नहीं सोता लेकिन इसकी बैटरी को स्वस्थ रखने या लाइफ को बढ़ाने के लिए इसे सप्ताह में कम से कम एक बार रीस्टार्ट करना चाहिए। भले ही फोन अच्छे से काम कर रहा हो, फिर भी फोन को समय-समय पर रीस्टार्ट करते रहना चाहिए। इससे मोबाइल में मौजूद अस्थायी फाइल्स डिलीट हो जाती हैं। मेमोरी मैनेजमेंट रीसेट हो जाता है। वहीं, स्मार्टफोन की गति सुधरती है और परफॉर्मेस्स भी बेहतर हो जाती है।

बैकग्राउंड ऐप्स साफ़ करना

ज्यादातर लोग अपने फोन के बेहतर प्रदर्शन के लिए बार-बार बैकग्राउंड में चल रहे ऐप्स को क्लीन करते रहते हैं। ऐसा करने के बजाय उन्हें बैकग्राउंड में चालू छोड़ देना बेहतर है क्योंकि आपका फोन एक सक्रिय ऐप से बैकग्राउंड ऐप पर स्विच करने के लिए कम ऊर्जा का उपयोग करता है। इससे आप अधिक तेजी से वहीं से ऐप शुरू कर सकते हैं जहां से आंपने छोड़ा था जिससे डिवाइस पर कम दबाव पड़ता है।

होम स्क्रीन पर भीड़

मोबाइल स्क्रीन पर लाइव वॉलपेपर काफ़ी आकर्षक लगते हैं। परंतु इससे मोबाइल का प्रदर्शन ख़राब होता है और बार-बार चार्ज करना पड़ता है। लाइव वॉलपेपर के बजाय सिर्फ तस्वीर का इस्तेमाल करें। इसके अलावा होम स्क्रीन से उन आइकन और विजिट को हटा दें। जिनका इस्तेमाल नहीं करते।

*Disclaimer :- यहाँ दी गई जानकारी अलग अलग जगह से जुटाई गई सामान्य जानकारी है, Mpbreakingnews दी गई जानकारी की पुष्टि नहीं करता है।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News