सर्दियों में तेजी से बढ़ती है कमर दर्द की समस्या, इन उपाय को करने से मिलेगा आराम

health tips, back pain

जीवनशैली, डेस्क रिपोर्ट। ठंड की शुरूआत होते ही लोगों में कमर दर्द की समस्या भी शुरू हो जाती है। कमर का दर्द (Back Pain) गर्मी के मौसम की तुलना में सर्दियों में और अधिक बढ़ जाता है, क्योंकि लोग ठंड के दिनों में अपना ज्यादातर समय घर पर ही बिताते हैं, जिससे उनकी प्रतिदिन होने वाली शारीरिक गतिविधियों में रूकावट आ जाती है, जैसे पैदल चलना , व्यायाम करना और टहलने के लिए घर से बाहर जाना इस प्रकार के शरीरिक गतिविधियां ठंड के दिनों में कम हो जाते हैं। जिसकी वजह से शरीर खून के संचालन की प्रकिया प्रभावित होती है। साथ ही शरीर की मांसपेशियों की स्ट्रैचिंग भी धीमी हो जाती है। इसी वजह से शरीर में कमर और पीठ का दर्द चालू हो जाता है।

किन कारणों से कमर में दर्द होता है ?
  • सर्दियों में तापमान घटने से रक्त वाहिनियां और मासंपेशियों सिकुड़ने लगती हैं।
  • फिजिकल एक्टेविटी का कम होना।
  • लंबे समय तक एक ही स्थान पर बैठना।
  • मांसपेशियों में खिंचाव के आ जाने से भी कमर में दर्द होता है।
  • मसल्स का चोटिल हो जाना।
  • शरीर का वजन अधिक बढ़ जाना।
  • लंबे समय तक कार चलाने से भी कमर में दर्द हो जाता है।
  • अधिक समय तक कंप्यूटर पर कार्य करना।
  • बिस्तर का ऊंचा-नीचा होने से सोते समय शरीर का भी हिस्सा ऊपर-नीचे हो जाता है, जिसके कारण भी कमर में दर्द होता है।
  • किडनी की बीमारी होना और महिलाओं में पेव्लिक संक्रमण की वजह भी कमर में दर्द हो सकता है।

यह भी पढ़े…Daliya kheer recipe: मीठे के शौकीन लेकिन डाइट की चिंता, मिनटों में बनाए प्रोटीन से भरपूर खीर

इन उपायों को करने से दूर होगा कमर दर्द
  • एक ही जगह पर ज्यादा समय तक न बैठें।
  • बैठते समय अपनी बॅाडी का पोश्चर ठीक रखें।
  • बिस्तर को न अधिक मुलायम और न ही अधिक हार्ड रखें।
  • काम के दौरान एक ही स्थान पर ज्यादा समय तक न बैठें काम करते हुए बीच-बीच में 5 मिनिट के लिए ब्रेक लेते रहें।
    शरीर की क्षमता के अनुसार ही वजन उठाएं।
ये घरेलू उपाय दूर करेगें कमर का दर्द
  • गर्म पानी में नमक मिला कर एक सूती कपड़े को इसी गर्म पानी में भिगोलें फिर इसे दर्द वाली जगह पर रखकर सिंकाई करें। सरसों के तेल में लहसुन की 5 या 6 कलियां मिलाकर तेल को गर्म कर लें, फिर जब तेल ठंडा हो जाए तो इसे अपने शरीर पर लगा लें।
  • रोज दूध में हल्दी मिलाकर पिए इससे आपको कमर दर्द में आराम मिलेगा।
  • सर्दियों में रोज हल्के गर्म पानी से ही नहाएं, ठंडे पानी से नहाने से बचें।
  • सर्दियों में जब भी घर से निकलें तो गर्म कपड़े पहन कर बाहर जाएं।

Disclaimer: इस खबर का उद्देश्य केवल शिक्षित करना है। एमपी ब्रेकिंग न्यूज इन बातों का दावा नहीं करता कृपया विशेषज्ञों की सलाह जरूर लें।


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है।अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"