बालाघाट : एमबीबीएस स्टुडेंट एसोसिएशन आइसोलेट मरीजों को देंगे परामर्श, मोबाईल नंबरों की जारी की सूची

बालाघाट एमबीबीएस स्टुडेंट एसोसिएशन घरों में आइसोलेट मरीजों को निशुल्क परामर्श देंगे। जिसके लिए मोबाईल नंबरों की सूची जारी कर दी गई है।

बालाघाट, सुनील कोरे। जिले में भले ही कोविड अस्पताल (Covid Hospital) में बेड खाली हो लेकिन आज भी अधिकांश लोग घरो में ही कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) आने के बाद आईसोलेट है। उनकी जहां निगरानी कोविड कमांड सेंटर (Covid Command Center) से की जा रही है। वहीं प्रशासन के पहल पर जिले के आईएमए (IMA) से जुड़े चिकित्सक भी उन्हें ऑनलाईन परामर्श दे रहे है। जिले में कोविड अस्पतालों में भर्ती की अपेक्षा कहीं ज्यादा मरीज घर में आईसोलेट है। जिन्हें फ्री परामर्श देने की जिम्मेदारी अब बालाघाट एमबीबीएस स्टुडेंट एसोसिएशन (Balaghat MBBS Student Association) ने उठाई है। कलेक्टर दीपक आर्य (Collector Deepak Arya) और सीएचएमओ से अनुमति के बाद इस एसोसिएशन से जुड़े युवा चिकित्सको ने घरो में आईसोलेट मरीजो के लिए अपना संपर्क नंबर जारी किया है। लगभग 28 युवा एमबीबीएस स्टूडेंट्स ने अपने-अपने नाम सहित मोबाईल नंबर की सूची जारी है, जिसमें बकायदा समय दिया गया है। उस समय पर जिले में कोरोना महामारी से प्रभावित घर में आईसोलेट मरीज निशुल्क परामर्श ले सकता है।

यह भी पढ़ें:-सीएम से सिंधिया तक की गुहार, नहीं मिली मदद, अस्पताल की लापरवाही से माँ का भी निधन

खास बात यह है कि यह सभी एमबीबीएस स्टुडेंट बालाघाट के है, जो प्रदेश के विभिन्न मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस के द्वितीय, तृतीय वर्ष के छात्र है, जो कोरोना महामारी में मेडिकल कॉलेजो में अपनी सेवायें दे रहे है। अपनी इंटर्नशीप के दौरान खाली वक्त में इन सभी युवा चिकित्सकों ने अपना समय बालाघाट जिले के घरो में आईसोलेट कोरोना मरीजों के लिए दिया है। जिनसे मरीज निर्धारित समय में उनके मोबाईल नंबर पर कोरोना से प्रभावित होने पर जांच परामर्श ले सकते है। वर्तमान में यह सभी इंदौर, भोपाल, सागर सहित अन्य मेडिकल कॉलेजो में अध्ययनरत है।

बालाघाट : एमबीबीएस स्टुडेंट एसोसिएशन आइसोलेट मरीजों को देंगे परामर्श, मोबाईल नंबरों की जारी की सूची

प्रातः 10 बजे से रात 10 बजे तक परामर्श सेवायें देंगे युवा चिकित्सक
बालाघाट एमबीबीएस स्टुडेंट एशोसिएशन के नाम से जारी की गई सूची सोशल मीडिया ग्रुप में तेजी से वायरल हो रही है, जिसकी लोग सराहना भी कर रहे है और उनकी सेवाओं के प्रति आभार भी जता रहे है। इन युवाओं ने कोरोना प्रभावित घरो में आईसोलेट मरीजों को परामर्श देने के लिए एक टाईम शेड्युल तय किया है, जिसमें हर शेड्युल टाईम एक से दो घंटे है, जिसमें उस शेड्युल टाईम में दो से तीन और चार चिकित्सकों का एक ग्रुप बनाया गया है, जिससे उस तय समय में घर में बैठा मरीज अपने लिए चिकित्सीय परामर्श ले सकता है। इस शेड्युल टाईम में प्रातः 10 से 11 बजे तक एमबीबीएस स्टुडेंट संगम टेंभरे, दिव्यांशु चौधरी एवं आस्था बागडे, प्रातः 11 से 12 बजे तक प्रियदर्शन चौधरी एवं अंकिता तुरकर, दोपहर 12 से 1 बजे तक अंचल मेश्राम एवं विक्रम पटले, दोपहर 1 से 2 बजे तक सुषमा नारनौरे एवं दीपल जैन, दोपहर 2 से अपरान्ह 3 बजे तक गुंजन बिसेन एवं तृप्ति धुर्वे, अपरान्ह 3 से 4 बजे तक अनुश्री मेश्राम एवं मनस्विनी चौरसिया, अपरान्ह 4 से शाम 6 बजे तक रचना कुरील, साक्षी मेश्राम एवं नुपुर चौरे, शाम 6 से रात 7 बजे तक हिमांशी हनवत, प्रकाश बागडे, स्वप्निल गजभिये एवं अमित रिनायत, रात 7 से 8 बजे तक स्नेहा वैद्य, भुवनेश्वर सहारे एवं मयंक रावते तथा रात्रि 8 से 10 बजे तक राहुल सहारे, हिमांशु सैयाम एवं संगम टेंभरे से मरीज संपर्क कर परामर्श ले सकते है।