(Suspended)

बैतूल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में कोरोना (corona) काल के बाद से ही स्वास्थ्य व्यवस्थाओं पर खासा ध्यान दिया जा रहा है। इसके साथ ही लापरवाही करने वाले अधिकारी कर्मचारियों पर गाज गिर रही है। इसी बीच गुरुवार को बैतूल के मुलताई में सीएमएचओ (CMHO) डॉ एके तिवारी (AK Tiwari) ने स्वास्थ्य सेवाओं का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान होने से संविदा कर्मचारी को अस्पताल में अनुपस्थित पाया। जिसके बाद तत्काल कार्रवाई करते हुए उन्होंने उपस्थित एएनएम (ANM) को मौके पर निलंबित कर दिया।

सीएमएचओ डॉ तिवारी मुलताई के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। निरीक्षण के दौरान सीएमएचओ ने पाया कि संविदा कर्मचारियों में से 6 कर्मचारी अनुपस्थित है। इतना ही नहीं 2 नियमित कर्मचारी भी अस्पताल में अनुपस्थित थे। इसके अलावा एक एएनएम 5 महीने से अस्पताल से अनुपस्थित है। इसके बाद सीएमएचओ डॉ एके तिवारी ने मौके पर ही एएनएम कविता नागले को निलंबित कर दिया।

Read More: कोरोनिल : बाबा रामदेव ने लॉन्च की कोरोना की नई दवा, किए बड़े दावे, केंद्रीय मंत्री रहे मौजूद

जहां उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं का जायजा लिया इस दौरान तिवारी प्रसूता वार्ड में पहुंचे। जहां भर्ती महिला ने कहा कि उन्हें प्रसव के बाद कुछ भी खाने के लिए नहीं दिया गया जबकि अस्पताल द्वारा उनसे 100 का सुविधा शुल्क भी लिया गया है। इसके बाद नाराजगी जताते हुए सीएमएचओ ने कर्मचारियों को सख्त हिदायत दी कि अगर दोबारा ऐसा हुआ तो कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।