कंगना रनौत के खिलाफ किसान और कांग्रेस ने किया सड़क पर उतरने का ऐलान, ये है मामला

बैतूल, डेस्क रिपोर्ट। फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत (Film Actress Kangana Ranaut) द्वारा ट्विटर (Twitter) पर कृषि अधिनियम (Agriculture Act) के विरोध में आंदोलनकारी किसानों (Agitating Farmers) को आतंकवादी (Terrorist) कहना कहीं महंगा ना पड़ जाए। गौरतलब है कि इन दिनों फिल्म अभिनेत्री रनौत बैतूल जिले (Betul District) के कोयलांचल में आपनी फिल्म धाकड़ (Dhakad) की शूटिंग में व्यस्त हैं। परंतु ट्विटर पर दिए बयान के विरोध में बैतूल जिले की सारणी क्षेत्र में चल रहे हैं उनकी फिल्म धाकड़ की शूटिंग को रुकवाने के लिए जिले के किसान और कांग्रेसी नेताओं ने सड़क पर उतरने का ऐलान कर दिया है।

एक दिन दिन पहले जहां चिचोली में सेवादल नेता मनोज आर्य के नेतृत्व में कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपकर चेतावनी दी है कि कंगना रनौत अपने उक्त बयान को लेकर सार्वजनिक तौर पर माफी मांगे अन्यथा यहां के किसान 12 फरवरी के बाद सारणी पहुंचकर शूटिंग रुकवाने के लिए विरोध प्रदर्शन करेंगे और आंदोलन करेंगे। दूसरे दिन 11 फरवरी को बैतूल में किसान संगठन और कांग्रेसियों ने एसपी बैतूल सीमाला प्रसाद को ज्ञापन सौंप कर कंगना रनौत के खिलाफ अपराध दर्ज करने को लेकर ज्ञापन सौंपा है।

ज्ञापन देने पहुंचे कांग्रेसी नेताओं में प्रदेश कांग्रेस के सचिव समीर खान का कहना है कि शशि थरूर के खिलाफ बैतूल में मामला दर्ज हो सकता है तो कंगना रनौत के खिलाफ क्यों नहीं हो सकता । ज्ञापन देने किसान कांग्रेस और कांग्रेस कमेटी की बड़ी संख्या में सदस्य शामिल थे। यहां यह उल्लेख करना भी लाजिमी है कि प्रदेश के गृह मंत्री द्वारा कंगना रनौत को इस मामले में डरने की बात नहीं है कहने के कारण भी मामला तूल पकड़ लिया है।