भिंड एसपी पर गिर सकती है गाज, रेत के मामले में सरकार नाराज

भिण्ड- गणेश भारद्वाज| भिंड (Bhind) के एसपी (SP) नागेंद्र सिंह (Nagendra Singh) जल्द हटाए जा सकते हैं। दरअसल कोरोना (Corona) महामारी के बीच में जिस तरह से भिंड में अवैध रेत उत्खनन का खेल खुलेआम चल रहा है और जिसमें पुलिस (Police) की संलिप्तता साफ तौर पर दिखाई दे रही है उसे लेकर मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) और गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Dr.Narottam Mishra) भारी नाराज हैं। नरोत्तम ने गुरुवार को इस पूरे मामले पर गंभीरता दिखाते हुए भिंड में पदस्थ सभी थाना प्रभारियों को जिनके ऊपर रेत माफियाओं से कनेक्शन के आरोप लगे थे तत्काल भोपाल तबादला करने के आदेश दिए हैं । कयास लगाये जा रहे है कि जल्द ही भिंड के एसपी को भी पुलिस मुख्यालय में पदस्थ किया जा सकता है और किसी अन्य आईपीएस IPS अधिकारी को भिंड एसपी बनाकर भेजा जा सकता है

क्या है मामला

एक दिन पहले चंबल रेंज Chambal Range के DIG राजेश हिंगणकर Rajesh Hingankar ने भिंड में छापा मारकर एक प्रधान आरक्षक और एक आरक्षक वाहन चालक को निलंबित किया था । यह दोनों श्योपुर पुलिस बल में पदस्थ थे। लेकिन एसपी नागेंद्र सिंह का श्योपुर से तबादला भिंड हुआ तो वे उन्हें अपने साथ भिंड ले आए । इन दोनों पुलिसकर्मियों पर थाना प्रभारियों पर दबाव डालकर वसूली के आरोप लग रहे थे

इसके बाद बुधवार को डीआईजी राजेश हिंगणकर ने एक बार फिर रेत माफियाओं के खिलाफ छापामार कार्यवाही की और तीन थाना प्रभारियों को निलंबित करने के आदेश दिए। साथ ही भारी मात्रा में रेत का स्टॉक भी बरामद किया गया ।डीआईजी ने अपनी रिपोर्ट पुलिस मुख्यालय को दी जिसमें साफ तौर पर इस पूरे मामले में पुलिस की संलिप्तता के आरोप दिख रहे थे इसे लेकर ही गृहमंत्री ने यह कड़ी कार्रवाई की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here