DA Hike : कर्मचारियों-पेंशनर्स को मिलेगा लाभ, 8 प्रतिशत तक बढ़ेगा DA! वित्तीय वर्ष में बढ़कर होगा 46 प्रतिशत, विभाग ने दिए निर्देश

Kashish Trivedi
Published on -

7th pay Commission DA Hike : राज्य के कर्मचारियों को आगामी वित्तीय वर्ष के बीच बड़े स्तर पर महंगाई भत्ते में वृद्धि का लाभ मिल सकता है। इसके लिए सभी विभागों से वेतन भत्ते में व्यय होने वाली राशि का आकलन कर स्थापना व्यय प्रस्तावित करने के निर्देश दिए गए। वही आज मुख्यमंत्री केंद्रीय बजट को लेकर बैठक कर सकते हैं।

2023-24 में कर्मचारियों को मिल सकता है 8% महंगाई भत्ते का लाभ 

दरअसल 2023मध्य प्रदेश का चुनावी साल है। ऐसे में अधिकारी कर्मचारियों को 8% महंगाई भत्ते का लाभ मिल सकता है। फिलहाल कर्मचारियों को 38 फीसद की दर से दिए उपलब्ध कराया जा रहा है। वित्तीय वर्ष 2023-24 में इसे बढ़कर 46% तक होने की संभावना जताई गई है। वहीं राज्य के बजट में आगामी वित्तीय वर्ष के 46% के हिसाब से विभागों को राशि का आवंटन किया जाएगा। इतना ही नहीं वार्षिक वेतन वृद्धि के लिए भी 3% अतिरिक्त राशि विभागों को मद के रूप में उपलब्ध कराई जाएगी।

शनिवार को सभी विभागों के अधिकारियों के साथ CM कर सकते हैं बैठक

केंद्रीय बजट की घोषणा के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार को सभी विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक कर सकते हैं। जिसमें अपर मुख्य सचिव के अलावा प्रमुख सचिव और विभागाध्यक्ष सहित केंद्रीय योजनाओं में प्रदेश को मिलने वाली राशि और नई योजनाओं का लाभ उठाने संबंधित ब्योरा तैयार किया जा सकता है। इसके लिए महत्वपूर्ण निर्देश भी दिए जा सकते हैं।

बजट का 36.39% हिस्सा वेतन भत्ते और पेंशन के लिए खर्च

जारी आंकड़ों के मुताबिक शिवराज सरकार अपने बजट का 36.39% वेतन भत्ते और पेंशन के रुपए खर्च कर रही है। दरअसल पेंशन के रूप में बजट के 9.92% राशि जबकि वेतन भत्ते के लिए 26.47% राशि खर्च की जा रही है।

वेतन भत्ते के भुगतान पर राज्य शासन पर अतिरिक्त बोझ बढ़ेगा

हालांकि वर्ष 2024 में अधिकारी कर्मचारियों को भुगतान होने वाले वेतन भत्ते का खर्च बढ़ जाएगा। दरअसल एक लाख से अधिक रिक्त पदों पर होने वाली भर्ती के बाद अधिकारी कर्मचारियों की वेतन भत्तों में भी वृद्धि होगी। ऐसे में अगस्त 2023 के बाद एक बार फिर से वेतन भत्ते के भुगतान पर राज्य शासन पर अतिरिक्त बोझ बढ़ेगा।

वहीं वित्त विभाग के अधिकारियों की माने तो कर्मचारियों के लिए 1% महंगाई भत्ता और डीआर बढ़ाने में राज्य शासन पर लगभग ₹400 करोड़ रूपए का अतिरिक्त भार देखने को मिलता है ऐसे में फिलहाल कर्मचारियों को 38 फीसद की दर से उपलब्ध कराए जा रहे हैं जबकि पेंशनर्स को 33% की दर से डीआर का लाभ दिया जा रहा है। वित्तीय वर्ष 2023- 24 में इसके 8% तक बढ़ने की संभावना जताई गई है। वहीं प्रदेश में साढ़े 7 लाख अधिकारी कर्मचारी सहित चार लाख पेंशनर शामिल है।

वित्त विभाग के निर्देश 

वित्त विभाग द्वारा सभी विभागों को निर्देश दिए गए। जिसमें वेतन भत्ते में खर्च होने वाली राशि का आकलन कर स्थापना व्यय प्रस्तावित करने को कहा जा रहा है। 8% महंगाई भत्ते में वृद्धि इस वर्ष देखने को मिलेगी। इसके साथ ही सभी विभागों के लिए भी बजट का प्रावधान किया जाएगा।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News