लुटेरे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला, रात भर चला तनाव

-Attacking-on-the-police-team-to-catch-the-robbers-tension-overnight

भोपाल। बजरिया इलाके में पुलिस टीम पर हुए हमले के मामले में बलवा, मारपीट सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज कर लिया गया है। मामले में दो औरतों सहित आठ नामजद और एक दर्जन अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। एक भी आरोपी की फिलहाल गिरफ्तारी नहीं की जा सकी है। पुलिस बदमाशों के संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है।

सीएसपी सलीम खान के अनुसार कोतलवाली पुलिस ने नकबजन पकड़े हैं। आरोपियों ने पूछताछ में फीरोज लुटेरा निवासी सराय सिकंदरी मुस्तफा की चाल को अपना साथी बताया था। फीरोज द्वारा कई लूट की वारदातों को अंजाम देने की बात भी पुलिस को बताई गई थी। इसी मामले में कोतवाली थाने के एसआई जितेंद्र केवट पांच पुलिसकर्मीयों के साथ में फीरोज को पकडऩे के लिए बजरिया पहुंचे थे। बजरिया थाने से उन्होंने एएसआई दिलीप सिंह को साथ लिया। सभी आरोपियों को पकडऩे के लिए फीरोज के घर पहुंचे। जहां पुलिस पार्टी देख पहले घर की महिला फेमीदा और शाबनम ने पुलिसवालों पर पथ्राव किया। इसी का फायदा उठाकर आरोपी सोहेल पंचर, परवेज, फीरोज, सूरज, जावेद, वसीम ने भी हंगामा करते हुए पुलिस टीम पर पथ्राव किया। हंगामा सुन आस पास के लोगों ने भी पुलिस टीम को घेर लिया और मारपीट करना शुरू कर दी। जिसके बाद में पुलिसकर्मी वापस थाने लौट गए। जहां एएसआई दिलीप सिंह ने प्रकरण दर्ज कराया।

– घर में ताले लगाकर फरार हुए बदमाश

थाने से फोर्स लेकर दोबारा पुलिस टीम आरोपियों के घर पहुंची। तब तक बदमाश घर में ताला लगाकर भाग चुके थे। आज तड़के तक पुलिस टीम आरोपियों की तलाश में उनके संभावित ठिकानों पर दबिश देती रही। पुलिस सूत्रों की माने तो सोहेल और फीरोज के करीबियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस का दावा है कि सभी आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।