बैंक की ‘वसूली’ के खिलाफ पुलिसवाले ने खोला मोर्चा, 50 हजार खातों की होगी जांच

bank-deduct-59-rupees-from-cop-salary-

भोपाल। पब्लिक सेक्टर बैंक अक्सर उपभोक्ताओं के खाते से मिनिमम बैलेंस नहीं होने पर कटौती करते हैं। उपभोक्ता भी काटी गई रकम की जानकारी बैंक से लेना उचित नहीं समझते। लेकिन एक पुलिसवाले ने बैंक द्वारा उसके खाते से काटे गए 59 रुपए को लेकर मोर्चा खोल दिया है। दरअसल, पुलिसकर्मचारियों को  राज्‍य सरकार सैलरी पैकेज योजना के तहत छूट मिलती है। लेकिन बवजूद इसके बैंक ने कॉन्‍स्‍टेबल के खाते से  59 रुपये ट्रांजैक्‍शन चार्ज के रूप में काट लिए हैं। अब कॉन्स्टेबल ने भी बैंक को उसके रुपए वापस देने के लिए मजबूर कर दिया है। 

यही नहीं मध्‍य प्रदेश पुलिस मुख्‍यालय में इसकी जांच शुरू हो गई है कि क्‍या ऐसा राज्‍य के अन्‍य 50 हजार पुलिसकर्मियों के साथ तो नहीं हुआ है। एआईजी पुलिस वेलफेअर ने सभी पुलिस यूनिट्स को लिखे पत्र में कहा है कि सभी कर्मचारियों से कहें कि वे अपने खाते की जांच करें और देखें की कहीं उनके खाते से भी पैसा तो नहीं कटा है। यही नहीं पुलिसवाले ने पीएस मोदी को भी इस बारे में जानकारी दी है। उसने इस मामले को उठाते हुए बताया कि अगर इस तरह बैंक द्वार रुपए चार्ज के रुप में काटे गए हैं तो यह रकम करोड़ो में होगी। उन्होंने कहा कि क्या आप 59 रुपए बैंक द्वारा काटे जाने पर सवाल करेंगे। कोई नहीं करता मैंने भी चेक नहीं किया था। लेकिन जब बैंक द्वारा दूसरी बार ऐसा किया गया तो मैंने ठान लिया कि अब इस बारे में जांच होना जरूरी है और मैंने अपना पैसा वापस लेने की ठान ली।