फिर शर्मसार हुई भोपाल क्राइम ब्रांच, प्रधान आरक्षक रिश्वत लेते धराया

भोपाल। भोपाल क्राइम ब्रांच की कार्यशैली लगातार सवालों के घेरे में है. दागदार पुलिसकर्मियों पर हाल ही में डीआईजी इरशाद वली ने कार्रवाई भी की थी. लेकिन उससे भी क्राइम ब्रांच में पदस्थ पुलिसवालों ने सबक नहीं लिया। बुधवार रात एक क्राइम ब्रांच के प्रधान  आरक्षक को भोपाल लोकायुक्त ने रंगे हाथ रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। प्रधान आरक्षक को छह हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

लोकायुक्त पुलिस सूत्रों के अनुसार प्रधान आरक्षक महेन्द्र सिंह को खालिद कुरैशी नामक एक व्यक्ति से रिश्वत लेते पकड़ा गया है। आरोपी प्रधान आरक्षक ने खालिद कुरैशी को एक झूठे अपराध में फंसाने की धमका देकर उससे छह हजार रुपए की रिश्वत मांग रहा था। खालिद द्वारा लोकायुक्त से इस मामले की शिकायत करने के बाद आरोपी प्रधान आरक्षक को रिश्वत लेते पकड़ा गया।