भोपाल मेट्रो का ट्रायल रन 3 अक्टूबर को, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हरी झंडी दिखाकर करेंगे शुभारंभ

Shashank Baranwal
Published on -
Bhopal Metro

Bhopal Metro: मध्य प्रदेश में साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होने वाले है। ऐसे प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान प्रदेश और राजधानी को अलग अलग मौके पर सौगात दे रहे है। इसी सिलसिले में 3 अक्टूबर को राजधानी भोपाल में मेट्रो ट्रेन का ट्रायल होने जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज खुद मेट्रो के ट्रायल को हरी झंडी दिखाकर शुभारंभ करेंगे। इस दौरान कार्यक्रम में नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह और जन प्रतिनिधि मौजूद रहेंगे।

सुभाष नगर से रानी कमलापति स्टेशन तक होगा ट्रायल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सुबह 11 बजे भोपाल मेट्रो को ट्रायल के लिए रवाना करेंगे। मेट्रो ट्रेन का ट्रायल सुभाष नगर स्टेशन से रानी कमलापति स्टेशन तक होगा। इन दोनों स्टेशनों के बीच की दूरी 5 किमी. है।

भोपाल मेट्रो में यात्रियों को मिलने वाली सुविधाएं

  • मेट्रो में मानचित्र (मैप) के साथ ऑडियो सिस्टम की सुविधाएं मुहैया कराई जाएगी।
  • मेट्रो में यात्रा के दौरान किसी भी समय मेट्रो ट्रेन ऑपरेटर से संपर्क कर सकेंगे।
  • मेट्रो यात्रा को सुविधाजनक बनाने के लिए द्विभाषी साइन बोर्ड की सुविधा रहेगी।
  • स्टेशन पर चढ़ने उतरने के लिए एक्सेलेटर, लिफ्ट और सीढ़ी की सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • यात्रियों की सुविधा के लिए सड़क के दोनों तरफ प्रवेश और निकास के मार्ग रहेंगे।
  • मेट्रो लगभग 30.95 किमी. लम्बी और 30 मेट्रो स्टेशन रहेंगे।
  • ऑटोमेटिक गेट की सुविधा उपलब्ध रहेगी।
  • मेट्रो स्टेशन पर यात्रियों के लिए पैदल ओवर ब्रिज की सुविधा रहेगी।
  • मेट्रे स्टेशन पर पूछताछ केंद्र, सुरक्षा,जांच और शौचालय जैसी अन्य सुविधाएं भी रहेंगी।
  • आपातकालीन स्तिथि से निपटने के लिए आपातकालीन दरवाजे और आवश्यक डिवाइस भी उपलब्ध रहेंगे।
  • दिव्यांग यात्रियों के लिए मेट्रो स्टेशन पर अलग से वाहन पार्किंग की सुविधा रहेगी।
  • मेट्रो में दृष्टिबाधित लोगों के लिए खास सुविधाएं प्रदान की जाएगी।

6941 करोड़ रुपये की भोपाल मेट्रो परियोजना

बता दें भोपाल मेट्रो रेल परियोजना के लिए मुख्यमंत्री शिवराज ने 6941 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी है। भोपाल मेट्रो के पहले चरण में लगभग 30.95 किमी. कपर काम चल रहा है। जहां ऑरेंज लाइन 16.77 किमी. लम्बी एम्स से करोंद चौराहा को जोड़ेगी। वहीं ब्लू लाइन 14.18 किमी. लम्बी भदभदा चौराहा से रत्नागिरी तिराहे को जोड़ेगी।


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है– खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालो मैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।

Other Latest News