पीएचई की बैठक में सीएम मोहन यादव के अफसरों को निर्देश, जलापूर्ति पर रखें फोकस, स्वयं के प्रयास से जल उपलब्ध करवाने वालों का होगा सम्मान

Atul Saxena
Published on -
CM Dr. Mohan Yadav

MP News , CM Dr Mohan Yadav : मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने आज पीएचई अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे नगरीय निकायों को जलापूर्ति सुनिश्चित कराने के लिए जल निगम और नगरीय विअक्स एवं आवास विभाग से समन्वय स्थापित कर काम करें, मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि ऐसे लोग या संस्था जो स्वयं के प्रयास से जल उपलब्ध कराते हैं उन्हें 26 जनवरी और 15 अगस्त को सम्मानित किया जाये।

मुख्यमंत्री डाॅ.मोहन यादव की अध्यक्षता में आज मंत्रालय में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग (PHE) की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने विभाग की गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की और आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्रीमती सम्पतिया उईके भी मौजूद थी।

समन्वय स्थापित कर जलापूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश 

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि नगरीय निकायों को जलापूर्ति सुनिश्चित करने के लिए जल निगम और नगरीय विकास एवं आवास विभाग परस्पर समन्वय से कार्ययोजना बनाकर उनका क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि बड़े गाँवों से निकलने वाले अपशिष्ट जल के पुनः उपयोग के लिए प्राथमिकता से कार्य करें, यह भी सुनिश्चित करें कि अपशिष्ट जल से गंदगी न फैले और बीमारियों की स्थिति निर्मित न हो।

स्वयं के प्रयास से जल उपलब्ध करवाने वालों का होगा सम्मान 

मुख्यमंत्री ने कहा कि नल-जल योजनाओं के कार्य और सामग्री की गुणवत्ता की जांच के लिये जिला स्तर पर निरंतर कार्यवाही हो तथा उसकी जानकारी राज्य स्तर पर दी जाए। मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने कहा कि स्वयं के प्रयास से लोगों को जल उपलब्ध कराने वाले व्यक्तियों और संस्थाओं को 15 अगस्त व 26 जनवरी पर सम्मानित किया जाए।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News