भोपाल
अखिल भारतीय किसान सभा ने 10 जून को देशव्यापी प्रदर्शन कर केंद्र सरकार द्वारा जारी किये गए तीन किसान विरोधी-जन विरोधी अध्यादेशों की प्रतियां जलाने का आह्वान किया है।
सभा का कहना है कि 3 जून को हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक ने कृषि उत्पाद व्यापार एवं वाणिज्य (प्रोत्साहन एवं सहूलियत सरलीकरण) अध्यादेश 2020 तथा किसान (सशक्तिकरण एवं संरक्षण) मूल्य वादा तथा खेती सेवा अध्यादेश 2020 जारी कर कृषि व्यापार की बड़ी कंपनियों तथा बड़े आढ़तियों के लिए किसान की लूट का रास्ता साफ़ कर दिया है। इस तरह सरकार न केवल खाद्यान्न तथा कृषि उपज खरीदी से लगभग पूरी तरह बाहर हो गयी है बल्कि न्यूनतम समर्थन मूल्य की बची खुची संभावनाएं भी चौपट कर दी हैं। वहीं ठेका खेती को छूट अलग से दे दी गयी है। इससे पहले मोदी सरकार आवश्यक वस्तु अधिनियम को समाप्त कर सारे प्रतिबंध पहले ही उठा चुकी थी। जिससे न केवल कालाबाजारी और जमाखोरी जायज हो जाएगी बल्कि नागरिकों की खाद्यान्न सुरक्षा भी संकट में पड़ जाएगी।
अखिल भारतीय किसान सभा ने इन तीनो अध्यादेशों की प्रतियां जलाने का आह्वान किया है।  देशभर के किसान 10 जून को इन प्रतियों को जलाकर अपना विरोध प्रदर्शन करेंगे।