Bhopal News- 3 केन्द्रों पर डाई रन सफल, 75 व्यक्तियों पर की कोरोना वैक्सीन रिहर्सल

चिकित्सा शिक्षा मंत्री  विश्वास सारंग (Vishwas Sarang) ने गोविंदपुरा स्वास्थ्य केन्द्र स्थित वैक्सीनेशन(Vaccination) केन्द्र पहुँचकर ड्राय रन की प्रक्रिया का जायजा लिया। 

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना के कहर के बीच आज 2 जनवरी से देशभर में कोरोना वायरस वैक्सीन का ड्राई रन शुरू किया गया है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (Ministry of Health and Family Welfare) के मुताबिक आज कोविड-19 (COVID-19) वैक्सीन के ड्राई रन सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में 259 स्थलों पर 116 जिलों किया गया। इसी कड़ी में आज शनिवार को मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) में भी सफलतापूर्व ड्राई रन किया गया।चिकित्सा शिक्षा मंत्री  विश्वास सारंग (Vishwas Sarang) ने गोविंदपुरा स्वास्थ्य केन्द्र स्थित वैक्सीनेशन(Vaccination) केन्द्र पहुँचकर ड्राय रन की प्रक्रिया का जायजा लिया।

यह भी पढ़े… Bhopal- साल के आखरी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की यह बड़ी घोषणा

दरअसल, कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) के लिये शनिवार 2 जनवरी को भोपाल के 3 वैक्सीनेशन केन्द्रों पर ड्राई रन सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ। कोविन एप पर वेक्सीनेशन के लिये चुने गये 75 व्यक्तियों के सफलतापूर्वक ड्राई रन में (रिहर्सल में) वैैक्सीनेशन होने के आँकडे 11 बजे के बाद ऑनलाइन (Online) प्रदर्शित होने लगे। भोपाल में 3 वेक्सीनेशन केन्द्र  गाँधीनगर स्वास्थ्य केन्द्र, गोविंदपुरा स्वास्थ्य केन्द्र और एल.एन. मेडिकल कॉलेज कोलार में बनाये गये थे। प्रत्येक वेक्सीनेशन केन्द्र पर 25 व्यक्तियों का वैक्सीनेशन किया गया।

वैक्सीनेशन केन्द्र पर व्यक्तियों के पहुँचने पर उन्हें प्रतीक्षा कक्ष में बैठाने, वैक्सीनेशन के लिये तैयार करने की व्यवस्था की गई थी, इसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन, हैंडवॉश और मास्कष पहनने सहित अन्य प्रोटोकॉल्स का पालन किया गया। वेक्सीनेशन के लिये भेजने से पहले व्यक्ति का इन्फ्रारेड टेम्प्रेचर और पल्स ऑक्सीमीटर से परीक्षण किया गया, इसके बाद संबंधित की पहचान का सत्यापन कर प्रतीक्षा कक्ष में रखा गया। उन्हें वेक्सीनेशन के संबंध में जरूरी संदेश भी दिये गये।

यह भी पढ़े… Bhopal News – साध्वी प्रज्ञा ठाकुर की तबियत बिगड़ी, दिल्ली के एम्स में भर्ती

वैक्सीनेशन कक्ष में एक-एक व्यक्ति को क्रम से प्रवेश दिया गया, जहाँ पर उनका वेक्सीनेशन करने वाले कार्यकर्ता ने रिहर्सल वेक्सीनेशन किया। इसके बाद वेक्सीनेशन कक्ष से वेक्सीनेट होने के बाद आये व्यक्ति को आब्जरवेशन रूम में रखा गया। आब्जरवेशन रूम में सभी व्यक्तियों को पूरे प्रोटोकॉल (Protocol) के साथ 30 मिनट तक रोका गया। ऑब्जर्वेशन रूम में चिकित्सकों का स्टॉफ ऐसी सभी औषधियों के साथ मौजूद रहा, जिनसे किसी भी प्रकार का साइड इफेक्ट कंट्रोल किया जा सकता था।

75 व्यक्तियों पर सफल रिहर्सल

करीब आधा घंटा पूरा होने के बाद वैक्सीनेट किये गये व्यक्ति पूरी तरह से स्वस्थ्य और घर जाने के लिये तैयार थे। उनके मोबाइल पर एक संदेश, आपको कोविड-19 वेक्सीन की पहली डोज़ आज 2 जनवरी 2021 को सफलतापूर्वक किये जाने की जानकारी दी गई। यह संदेश कोविन एप पर भी प्रदर्शित हो रहा है। इसी प्रकार का संदेश भोपाल में जिन 75 व्यक्तियों को ड्राय रन में कोविड-19 का रिहर्सल वेक्सीनेशन किया गया, उन सभी के मोबाइल पर यह संदेश भेजा गया।

क्या होता है ड्राई रन
ड्राई रन से मतलब है कि बिना वैक्सीन लगाए उस पूरी प्रक्रिया का पालन करना, जो टीकाकरण के लिए की जानी है। ड्राई रन के जरिए प्रकिया की जांच की जाती है कि पूरा सिस्टम सही से काम कर रहा है या नहीं।